Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक नगर निगम हाउस की बैठक में पार्षदों का हंगामा, कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे

इस धरने में सीनियर डिप्टी मेयर राजकमल सहगल और डिप्टी मेयर अनिल कुमार भी बैठे हैँ। वहीं निगम पार्षद कंचन खुराना राधेश्याम डायल डिंपल जैन अजय सक्सेना अमित बंसल व जे जी पी के निगम पार्षद राजेश सैनी ने संयुक्त बयान में कहा कि निगम के सदन की बैठक से पार्षदों का पलायन करना किसी भी समस्या का समाधान नहीं है।

रोहतक नगर निगम हाउस की बैठक में पार्षदों का हंगामा, कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे
X

 नगर निगम कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे पार्षद। 

5 महीने बाद रोहतक नगर निगम हाउस की बैठक मंगलवार शुरू होते ही पार्षदों ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए मीटिंग का बहिष्कार का दिया और नगर निगम कार्यालय के बाहर धरना शुरू कर दिया है। इस धरने में सीनियर डिप्टी मेयर राजकमल सहगल और डिप्टी मेयर अनिल कुमार भी बैठे हैँ।

बता दें कि सोमवार को मेयर मनमोहन गोयल के आवास पर भाजपा के सभी पार्षदों की बैठक शाम तक चली। इसमें सभी एजेंडों पर चर्चा हुई और किस तरह पास करवाया जाना है इसे लेकर भी रणनीति बनाई गई। लेकिन मंगलवार को रणनीत काम नहीं आई ।


वहीं नगर निगम के भारतीय जनता पार्टी के निगम पार्षद कंचन खुराना राधेश्याम डायल डिंपल जैन अजय सक्सेना अमित बंसल व जे जी पी के निगम पार्षद राजेश सैनी ने संयुक्त बयान में कहा कि निगम के सदन की बैठक से पार्षदों का पलायन करना किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। निगम पार्षदों के आग्रह पर ही 5 माह बाद सदन की बैठक बुलाई गई थी। शहर में दूषित पानी,सीवर जाम, टूटी सड़कें,एलिवेटेड ट्रैक से प्रभावित दुकानदारों के पुर्नवास, पशुओं के गोबर निष्पादन,नगर निगम के नए कार्यालय, निगम में भ्रष्टाचार सहित कई अन्य विषय थे जिनके समाधान की अपेक्षा मेयर व अधिकारियो से थी लेकिन कुछ पार्षदों ने राजनीति चमकाने के लिए निगम की बैठक का बहिष्कार कर दिया। भाजपा पार्षदों ने कहा इन पार्षदों का जन समस्याओं से कोई लेना देना नहीं है। इन में से कई पार्षदों का बैठक से पूर्व मेयर के घर में हुई चर्चा में शामिल होना भी केवल दिखावा है।



Next Story