Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फरीदाबाद में नशा दस्कर के घर में मिले 1.13 करोड़ रुपये, गिनने में लग गए कई घंटे

फिलहाल क्राइम ब्रांच ने आयकर विभाग को सूचित कर दिया है। आयकर विभाग के अधिकारी अमित से इन रुपयों का स्रोत पूछेेंगे। अगर वह रुपयों का सही स्त्रोत नहीं बता पाया तो उसके खिलाफ आयकर नियमों के तहत कार्रवाई होगी। सारा रुपया 500 व दो हजार के नोटों में है।

फरीदाबाद में नशा दस्कर के घर में  मिले 1.13 करोड़ रुपये, गिनने में लग गए कई घंटे
X

फरीदाबाद। ड्रग्स तस्कर स्व. बिजेंद्र उर्फ लाला के साले अमित के सेक्टर-23 स्थित आवास से क्राइम ब्रांच बदरपुर बार्डर ने 1.13 करोड़ रुपये बरामद किए हैं। बीमारी के चलते लाला की पिछले दिनों मौत हो गई थी। पुलिस का अनुमान है कि यह सारा रुपया लाला का ही है, जो उसने ड्रग्स की तस्करी करके कमाया था।

फिलहाल क्राइम ब्रांच ने आयकर विभाग को सूचित कर दिया है। आयकर विभाग के अधिकारी अमित से इन रुपयों का स्रोत पूछेेंगे। अगर वह रुपयों का सही स्त्रोत नहीं बता पाया तो उसके खिलाफ आयकर नियमों के तहत कार्रवाई होगी। सारा रुपया 500 व दो हजार के नोटों में है।

गौरतलब है कि बिजेंद्र उर्फ लाला फरीदाबाद में ड्रग्स तस्करी के लिए कुख्यात था। जिले में मादक पदार्थ उसके मार्फत लोगों तक पहुंचते थे। पुलिस कई बार उसे गिरफ्तार कर चुकी थी। हर बार वह जमानत पर बाहर आ जाता था और फिर से धंधे में जुट जाता था। करीब तीन महीने पहले ओल्ड फरीदाबाद निवासी एमबीए के छात्र कविश खन्ना की ड्रग्स की ओवरडोज के कारण मौत हो गई थी। उस मामले में लाला को भी पुलिस ने सहआरोपित बनाकर गिरफ्तार किया था। वह जमानत पर बाहर आया। इसी दौरान बीमारी के कारण पिछले महीने उसकी मौत हो गई थी।

क्राइम ब्रांच बदरपुर बार्डर प्रभारी सेठी मलिक को सूचना मिली कि लाला के बाद उसका साला अमित नशीले पदार्थ बेचने का काम करने लगा है। रविवार रात सेठी मलिक ने टीम गठित कर अमित के सेक्टर-23 स्थित मकान में छापेमारी कर दी। सूचना के मुताबिक उसके घर में नशीला पदार्थ तो नहीं मिला मगर अलमारी में रखे रुपये मिल गए। इतनी रकम देखकर एक बार तो पुलिसकर्मी भी चौंके गए। जिसके बाद पुलिस ने स्थानीय पार्षद जयवीर खटाना को सूचित किया। जब अमित और उसके परिवार वाले रुपयों के बारे में सही जवाब नहीं दे पाए तो आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया।

Next Story