Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली जाने वालाें को राहत : इस शहर से फिर चलाई जाएंगी रोडवेज बस

11 नवंबर को डिपो ने गोहाना व सोनीपत से होते हुए दिल्ली के लिए बस शुरू की थी, जो सुबह जींद बस स्टैंड से साढ़े पांच बजे चलती थी। किसान आंदोलन के कारण इस रूट से दिल्ली के लिए बस का परिचालन केवल 15 दिन ही हो पाया।

दिल्ली जाने वालाें को राहत : इस शहर से फिर चलाई जाएंगी रोडवेज बस
X

जींद बस अड्डा का फोटो।

हरिभूमि न्यूज. जींद

रोडवेज की बस से दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए अच्छा समाचार है कि शीघ्र ही इस रूट पर बस सेवा को बहाल किया जाएगा। डिपो अधिकारियों द्वारा इसे लेकर सर्वे किया गया है। सोमवार को सर्वे की रिपोर्ट डिपो महाप्रबंधक बिजेंद्र सिंह को सौंपी जाएगी। जीएम द्वारा यह रिपोर्ट मुख्यालय भेजी जाएगी। मुख्यालय से निर्देश मिलने के बाद दिल्ली रूट के लिए बस बहाल की जाएंगी। हालांकि गत 11 नवंबर को डिपो ने गोहाना व सोनीपत से होते हुए दिल्ली के लिए बस शुरू की थी, जो सुबह जींद बस स्टैंड से साढ़े पांच बजे चलती थी। किसान आंदोलन के कारण इस रूट से दिल्ली के लिए बस का परिचालन केवल 15 दिन ही हो पाया। उसके बाद से यह बस सोनीपत तक ही जाती है। अभी हाल ही में किए गए सर्वे में भी रोहतक रूट से दिल्ली के लिए बस चलाने की तैयारी है। सोनीपत रूट से दिल्ली के लिए बस चलाने बारे कोई अभी तैयारी नहीं है।

पिछले चार माह से नहीं जा रही दिल्ली बस

गौरतलब है कि किसान आंदोलन के कारण पिछले चार महीने से जींद डिपो की बस केवल बहादुरगढ़ तक ही जा रही हैं। यात्रियों को राहत देते हुए डिपो अधिकारी दिल्ली के लिए बस चलाने की तैयारी कर रहे हैं। किसान आंदोलन से पहले जींद डिपो से दिल्ली के लिए 12 बस चलती थी जो अब बहादुरगढ़ तक चल रही हैं। अब दिल्ली रूट के लिए डिपो अधिकारियों द्वारा सर्वे किया गया था। दिल्ली रूट के लिए शनिवार को डिपो अधिकारियों ने दो रूट पर सर्वे किया था। शनिवार को अधिकारियों द्वारा बहादुरगढ़ से निजामपुर व घेवरा होते हुए के लिए दिल्ली तक रूट का सर्वे किया। इस रूट पर जाम की स्थिति को देखते हुए अधिकारियों ने इस रूट को दरकिनार कर दिया। इसके बाद अधिकारियों ने रोहतक से खरखौदा होते हुए दिल्ली के लिए बस भेजने सहमति जताई है। इस रूट पर खास बात यह है कि यात्रियों से किसान आंदोलन से पहले दिल्ली के लिए जो किराया देना पड़ता था, उतना ही किराया इस नए रूट पर यात्रियों से लिया जाएगा। लॉकडाउन से पहले दिल्ली के लिए यात्रियों को 155 रुपये किराया लिया जाता था।


Next Story