Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चावल निर्यातक ने आढ़तियों को लगाया छह करोड़ का चूना

कलायत पुलिस को दी शिकायत में कैथल के जोगध्यान ने आरोप लगाया है कि वह कलायत अनाज मंडी में दुकान करता है।

चावल निर्यातक ने आढ़तियों को लगाया छह करोड़ का चूना
X

हरिभूमि न्यूज. कैथल। कलायत के आढ़तियों को एक निर्यातक द्वारा करोड़ों रुपए की धान खरीदने के बावजूद उसके राशि देने से इनकार करते हुए 6 करोड़ 15 लाख रुपए का चूना लगाने का मामला प्रकाश में आया है।

कलायत पुलिस को दी शिकायत में कैथल के जोगध्यान ने आरोप लगाया है कि वह कलायत अनाज मंडी में दुकान करता है। उसने बताया कि 2014 में अमीरा प्योर फूड्स प्राइवेट लिमिटेड गुड़गांव के मालिकों ने धोखाधड़ी करके उसके व्यक्तियों के पैसा हड़पने की साजिश रची। उसने बताया कि 2014 में उपरोक्त कंपनी के निदेशक राजेश अरोड़ाख् लेखाकार मानव व उनके साथ आए अन्य सहयोगियों ने उसकी अनाज मंडी दुकान पर दौरा किया और उसे बताया कि वह की शर्तें पूरी करता है।

उसने कहा कि वह वहां से खरीदी गई धान की राशि का समय पर भुगतान करेंगे। उसने बताया कि उनकी कंपनी हरियाणा पंजाब दिल्ली व अन्य राज्यों से भी है और खरीदी गई धान की राशि का समय पर भुगतान करती है। उसके साथ आए करण चानना ने बताया कि उनकी कंपनी की टर्नओवर करोड़ों रुपए में है उनका चावल खाड़ी देश जैसे कुवैत आदि में निर्यात होता है। उसने बताया कि उनके पास भारत सरकार से निर्यात का लाइसेंस भी है।

इसके अलावा उनके सदस्यों में अनिल चानना, करण चानना, राजेश अरोड़ा, अर्पणा पूरी आदि ने उन्हें विश्वास दिलाया कि वे पिछले 50 सालों से निर्यात का कार्य करते हैं। इसे लेकर उसने कलायत की अनाज मंडी एसोसिएशन से बातचीत की और उपरोक्त आरोपियों ने एसोसिएशन से वादा किया कि वे खरीदी गई धान की राशि का समय पर भुगतान करेंगे।

इस पर उसने उनके परचेजर के माध्यम से 2014-15 में आढ़तियों से धान खरीद कर भेजना शुरू कर दिया। शुरू में आरोपियों ने 9290 टन माल खरीदा और कुछ राशि दे दी। इसके बाद 20 जून 2020 तक अनाज मंडी के आढ़तियों की 6 करोड़ 14 लाख की राशि बकाया थी जो आरोपियों ने देने से साफ इनकार कर दिया।

यही नहीं जब भी उन्होंने उपरोक्त राशि मांगी तो आरोपियों ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी। उन्होंने बाद में पता चला कि उपरोक्त कंपनी के मालिकों के खिलाफ प्रदेश की सिरसा मंडी सहित करीब दर्जनों अपराधिक मामले दर्ज हैं। मामले के जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर सतपाल ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Next Story