Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियां रह गई धरी की धरी, जब पहुंच गए भाकियू कार्यकर्ता

शनिवार को प्रशासन तैयारियांे में जुटा था कि ऐन वक्त से पूर्व भाकियू जिलाध्यक्ष होशियार सिंह गिल, सुनील सहारण, वीरेंद्र मागोमाजरी अपने समर्थकों के साथ जाट शाइनिंग स्टार पब्लिक स्कूल के मुख्य द्वार पर आ धमके।

कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियां रह गई धरी की धरी, जब पहुंच गए भाकियू कार्यकर्ता
X

जाट शाइनिंग स्टार पब्लिक स्कूल कैथल में कोरोना वैक्सीनेशन का विरोध करते किसान तथा मौके पर पहुंची पुलिस

हरिभूमि न्यूज. कैथल। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियां उस समय धरी की धरी रह गई जब बीच में भाकियू कार्यकर्ताओं ने वहां आकर सरकार व विभाग के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी।

यह हुआ कैथल के जाट शाइनिंग स्टार पब्लिक स्कूल कैथल में। यहां पर जिला प्रशासन ने कोरोना वैक्सीनेशन की सभी तैयारियां पूरी कर ली थी। 15 जनवरी को उपायुक्त सुजान सिह ने भी दौरा किया था। 16 जनवरी को भाजपा विधायक लीला राम को कोरोना वैक्सीनेशन का मुख्य अतिथि बनाया गया था।

शनिवार को प्रशासन तैयारियांे में जुटा था कि ऐन वक्त से पूर्व भाकियू जिलाध्यक्ष होशियार सिंह गिल, सुनील सहारण, वीरेंद्र मागोमाजरी अपने समर्थकों के साथ जाट शाइनिंग स्टार पब्लिक स्कूल के मुख्य द्वार पर आ धमके। दर्जनों किसानों ने काले झंडे दिखाकर कोरोना वैक्सीनेशन का विरोध जताया। किसानों का कहना था कि यह दवाई बिना पूरे ट्रायल के उतारी गई है। वे समाज के गरीब लोगों को यह दवाई जबरन नहीं लगाने दंेगे।

जसविंद्र ढूल हरसौला ने कहा कि यदि दवाई सही है तो सबसे पहले विधायक, उपायुक्त तथा पुलिस अधीक्षक व उनके परिजनों को क्यों नहीं लगाते। किसी भी नेता व उच्चाधिकारी ने दवाई नहीं लगवाई तो ट्रायल के लिए निम्न कर्मचारी या गरीब बच्चों को ही क्यों चुना?

मौके पर पहुंचे डीएसपी दलीप सिंह ने किसानों को समझाने का प्रयास किया लेकिन किसानों को समझाने का प्रयास किया लेकिन किसानों का कहना था कि पहले विधायक व उसके परिजनों को टीका लगवाएं तो वे मान लेंगे। इसका जिला प्रशासन के पास कोई जवाब नहीं था।

ऐसे में किसानों के सामने जिला प्रशासन की एक न चली। किसानों के एक के बाद एक एकत्रित होते देख जिला प्रशासन ने वहां से खिसकने में भलाई समझी। देखते ही देखते स्वास्थ्य विभाग की टीम अपनी दवाई के बाक्स को गाड़ी में भरकर सिविल अस्पताल ले गई।



Next Story