Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सत्ताधारी नेताओं के खिलाफ लगे पोस्टर, जानें क्या लिखा

जींद जिले के गांव मलिकपुर में लगे एक ऐसे पोस्टर में स्पष्ट किया गया है कि जो किसान के साथ खड़ेगा वही गांव में बड़ेगा अर्थात जो किसानों की मांगों का समर्थन करेगा या उनके साथ खड़ा होगा वहीं गांव में प्रवेश कर सकेगा। वहीं अंबाला जिले के होली गांव में किसानों ने गांव के प्रवेश द्वार पर भाजपा व जजपा के नेताओं के गांव में घुसने पर पाबंदी का बैनर लगा दिया है।

सत्ताधारी नेताओं के खिलाफ लगे पोस्टर, जानें क्या लिखा
X

हरिभूमि न्यूज. जींद (सफीदों)

तीन कृषि बिलों के खिलाफ किसान दिल्ली की सभी सीमाओं पर धरना दे रहे हैं। सरकार व किसानों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी लेकिन इन वार्ताओं का कोई नतीजा नहीं निकला है। नतीजा ना निकलने की सूरत में किसानों ने सत्ताधारी गठबंधन के नेताओं के बहिष्कार की बात कहनी शुरू कर दी है और गांवों के बाहर इस प्रकार के बहिष्कार के बैनर भी लगने शुरू हो गए है। इसी कड़ी में सफीदों हलके के कई सिख बाहुल्य गांवों में किसान एकता जिंदाबाद के स्लोगन के साथ अज्ञात संस्था या व्यक्ति द्वारा पोस्टर चस्पा किए गए हैं जिनमें हरियाणा के सत्ताधारी भाजपा-जजपा गठबंधन के नेताओं के पूर्ण बहिष्कार की बात कही गई है।

गांव मलिकपुर में लगे एक ऐसे पोस्टर में स्पष्ट किया गया है कि जो किसान के साथ खड़ेगा वही गांव में बड़ेगा अर्थात जो किसानों की मांगों का समर्थन करेगा या उनके साथ खड़ा होगा वहीं गांव में प्रवेश कर सकेगा। गौरतलब है कि सफीदों विधानसभा क्षेत्र से काफी तादाद में किसान दिल्ली आंदोलन में गए हुए हैं और उनमें अधिक तादाद सिख समाज की है। सिख बाहुल्य गांवों के काफी संख्या में युवा किसान इन आंदोलन में पूरी संजीदगी के साथ उतरे हुए है। भारी संख्या में टैक्टर ट्रॉलियां आंदोलन में गई हुई हैं। वहीं गांवों से भारी मात्रा में राशन की खेप आंदोलन में पचाई जा रही है। अनेक गांवों के गुरुद्वारा परिसरों से लंगर पकाकर आंदोलन में भेजा जा रहा है। इस आंदोलन से पूर्व भी इन बिलों को लेकर सफीदों में कई बड़े प्रदर्शन हो चुके हैं।

वहीं अंबाला जिले के मुलाना के होली गांव में किसानों ने गांव के प्रवेश द्वार पर भाजपा व जजपा के नेताओं के गांव में घुसने पर पाबंदी का बैनर लगा दिया है। बता दे कि 29 दिसम्बर को साहा खंड के गांव बजीदपुर में बीजेपी व जेजेपी नेताओं के खिलाफ लगे पोस्टर के बाद अब होली गांव में भी गांव के किसानों ने बीजेपी जेजेपी नेताओं के खिलाफ चेतावनी भरा पोस्टर लगाया है । होली गांव के अड्डे पर बने प्रवेश द्वार पर लगाया गया है। पोस्टर लगने की सूचना मिलते ही मुलाना थाना प्रभारी राजेश कुमार मौके पर पहुंचे व ग्राम सरपंच से मिले। शनिवार शाम बीजेपी व जेजेपी पार्टी के नेताओं गांव में न आने की चेतावनी देता एक पोस्टर होली गांव के किसानों द्वारा गांव के प्रवेश द्वार पर लगाया गया ।

जिसपर किसान मजदूर एकता जिंदाबाद के साथ किसानों का साथ देने वाले नेता को ही गांव में प्रवेश की इजाजत व बीजेपी व जेजेपी पार्टी के नेताओं का प्रवेश निषेध व गांव में प्रवेश करने पर लठ फेरने की जिम्मेवारी नेताओं की होने बारे लिखा था। हालांकि यह धमकी भरे लहजे वाला पोस्टर किसने लगाया यह स्पष्ट नहीं हो पाया है।

Next Story