Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रदूषण के कारण फैसला : हरियाणा के इन 4 जिलों में स्कूल बंद रखने के आदेश, लोगों को घर से ही काम करने की सलाह

सब तरह के निर्माण कार्यों और नगरपालिकाओं द्वारा कूड़ा कर्कट जलाने पर भी रोक लगाई गई है।

Unlock 5 in Bihar implemented from 7 August Schools reopen with shops Religious places will still remain closed bihar latest corona guideline
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा सरकार ने वायु प्रदूषण को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में आने वाले झज्जर, गुरुग्राम, फरीदाबाद और सोनीपत जिले में 17 नवंबर तक सभी स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है। झज्जर के डीसी श्याम लाल पूनिया ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा वायु प्रदूषण को रोकने के लिए झज्जर सहित एनसीआर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चारों राजस्व जिलों में अगले सात दिनों के लिए स्वेच्छा से तत्काल प्रभाव से कई उपाय कर रही है।

उन्होंने बताया कि मुख्य सचिव-सह-अध्यक्ष, हरियाणा राज्य कार्यकारी समिति द्वारा राज्य के सभी प्रशासनिक सचिवों, पुलिस महानिदेशक, मंडलायुक्तों, गुरुग्राम, फरीदाबाद व रोहतक के आईजीपीएस, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत और झज्जर के उपायुक्त एवं एसपी और हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, पंचकूला के अध्यक्ष एवं सदस्य सचिव को जारी पत्र में दिए गए निर्देशों के अनुसार इन जिलों में 17 नवंबर तक सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि सड़कों पर वाहनों के आवागमन को 30 प्रतिशत तक कम करने के उद्देश्य से सभी सरकारी और निजी कार्यालयों को घर से कार्य करने की सलाह दी गई है। 10 से 15 वर्ष तक के पुराने वाहनों की उत्सर्जन के संबंध में कड़ाई से जांच किए जाने के आदेश भी जारी किए गए हैं।

जिलों में सभी प्रकार के निर्माण और विकास गतिविधियों पर जहां पूर्ण रूप से रोक रहेगी वहीं निर्माण गतिविधियों में प्रयोग होने वाले मैकेनाइज्ड स्टोन, क्रेशर और हॉट मिक्स प्लांट भी बंद रहेंगे। इसके अतिरिक्त, नगर निकायों द्वारा कचरा जलाने की अनुमति नहीं दी जाएगी और पराली जलाने पर रोक रहेगी। उन्होंने कहा कि सड़कों की मैन्युअल सफाई की अनुमति नहीं होगी। धूल को नियंत्रित करने के लिए सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जाएगा। निर्देशों के चलते झज्जर जिले में संयुक्त निरीक्षण दल गठित करके व्यापक जांच व निगरानी की जाएगी तथा आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।


Next Story