Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोख के कातिलों को पकड़ने के लिए यूपी में छापेमारी कर रही पुलिस

भ्रूण लिंग जांच के मामले में बादली निवासी दो लोगों को पकड़ने के लिए भी लगातार दबिश दी जा रही हैं। लेेकिन अभी तक कोई पकड़ में नहीं आया है। बादली थाना प्रभारी बाबूलाल सिंह ने बताया कि मामले में गंभीरता से जांच चल रही है।

कोख के कातिलों को पकड़ने के लिए यूपी में छापेमारी कर रही पुलिस
X

प्रतीकात्मक फोटो


हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

भ्रूण लिंग जांच के मामले में पकड़े गए चार आरोपितों को बादली पुलिस ने दो दिन के रिमांड पर लिया है। इस रिमांड अवधि में पुलिस की विभिन्न टीमें आरोपितों की निशानदेही पर दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ आदि शहरों में छापेमारी कर रही है। पुलिस का दावा है कि मामले में शामिल अन्य आरोपिताें को भी जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

दरअसल, फरीदाबाद और झज्जर जिले के स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम ने भ्रूण लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़ किया था। डील झज्जर जिले के बादली में हुई थी तो जांच यूपी के हापुड़ स्थित एक अस्पताल में की गई। मामले में कई लोग शामिल रहे। जैसे-तैसे टीम ने 12 जनवरी को चार आरोपित पकड़ लिए। इनकी पहचान दर्शन, नवीन, रिजवान और धीरज के रूप में हुई थी। इनके अलावा पांच और लोगों के नाम मामले में सामने आए। इनमें सुनीता और मंजीत बादली के हैं। हापुड़ निवासी डॉ. वसीम खान ने अपने अस्पताल में परीक्षण किया था। जबकि मोंटी और झा नाम के दो शख्स भी फरार चल रहे हैं। जांच का सौदा 60 हजार रुपये में तय हुआ था। मामले में पकड़े गए चारों आरोपितों को पुलिस ने अदालत से दो दिन के रिमांड लिया।

इस रिमांड अवधि में पुलिस ने इन चारों से फरार चल रहे अन्य पांच लोगों के बारे में पूछताछ की। पूछताछ के साथ-साथ पुलिस इनकी निशानदेही पर नोएडा, गाजियाबाद, हापुड़, दिल्ली आदि शहरों में जाकर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। बादली निवासी दो लोगों को पकड़ने के लिए भी लगातार दबिश दी जा रही हैं। लेेकिन अभी तक कोई पकड़ में नहीं आया है। बादली थाना प्रभारी बाबूलाल सिंह ने बताया कि मामले में गंभीरता से जांच चल रही है। लगातार छापे मारे जा रहे हैं। जल्द ही मामले में शामिल सभी आरोतित पकड़ लिए जाएंगे।

Next Story