Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लूटने के लिए बदमाशों ने पुलिस वालों पर ही तान दी पिस्तौल, इनके पास मिले हथियार देख पुलिस भी चौक गई

आरोपिताें की पहचान गांव लितानी निवासी इकबाल, भूना के वार्ड नंबर-6 टिब्बा बस्ती निवासी सुरेन्द्र उर्फ कालू, यूपी के मथूरा निवासी प्रेमपाल और बंटी के रूप में हुई है।

लूटने के लिए बदमाशों ने पुलिस वालों पर ही तान दी पिस्तौल, इनके पास मिले हथियार देख पुलिस भी चौक गई
X

सीआईए पुलिस टीम की गिरफ्त में आरोपित

हिसार। सीआईए की टीम ने जुगलान टी प्वाइंट पर 4 युवकों को भारी संख्या में अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपितों से पूछताछ जारी है। आरोपितों से 10 अवैध पिस्तौल और 10 जिंदा कारतूस बरामद हुए। आरोपितों में गांव लितानी निवासी इकबाल, भूना के वार्ड नंबर-6 टिब्बा बस्ती निवासी सुरेन्द्र उर्फ कालू, यूपी के मथूरा निवासी प्रेमपाल और बंटी शामिल हैं। पुलिस को उम्मीद है कि पूछताछ में कई वारदातों के बारे में खुलासा होंगे। पुलिस के अनुसार बुधवार की रात्रि को सीआईए की पुलिस टीम निरीक्षक नवीन कुमार के नेतृत्व में गश्त पर थी। इस दौरान टीम गांव बहबलपुर बस अड्डे पर मौजूद थी और उसे सूचना मिली कि जुगलान टी. प्वाइंट के सामने एक पेड़ के नीचे 4 लड़के हथियारों सहित एक मारूति कार लिए हुए हैं। वे राहगीरों को लूटने की फिराक में है।

निरीक्षक नवीन कुमार के अनुसार सीआईए टीम तुरंत मौके पर पहुंची तो वहां मौजूद मारूति कार चालक ने पुलिस की गाड़ी के आगे ही अपनी कार अड़ा दी और लूटने के इरादे से दो युवक हाथ में पिस्तौल लिए मारूति कार से उतरे और हमारी गाड़ी के चालक और उस पर पिस्तौल तान दी। आरोपितों की नजर पुलिस की वर्दी पर पड़ी तो चारों युवक खेतों की तरफ भागने लगे। पुलिस टीम ने उन्हें दबोच लिया। पुलिस पूछताछ में उन्होंने अपना नाम गांव लितानी निवासी इकबाल, भूना के वार्ड नंबर-6 टिब्बा बस्ती निवासी सुरेन्द्र उर्फ कालू, यूपी के मथूरा निवासी प्रेमपाल और बंटी बतलाया। तलाशी लेने पर उनसे 10 अवैध पिस्तौल और 10 जिंदा कारतूस बरामद हुए।

आरोपित बंटी ने बताया कि वह व उसका दोस्त प्रेमपाल दोनों अवैध असला की खरीद-फरोख्त करते हैं। असला बेचने से जो फायदा होता है। वे दोनों बराबर-बराबर हिस्सा बांट लेते हैं। करीब 15 दिन पहले उसके पास बिल्ला निवासी सैंथली व कालू निवासी भूना दोनों 5 अवैध पिस्तौल व 5 कारतूस खरीदकर लाए थे और उनसे बातचीत हुई थी कि अगर आप असला बेचने के लिए हरियाणा में आओगे तो हम आपका असला बिकवा देंगे। आरोपित ने बताया कि इस पर उसने 9 जून को हरियाणा में आने के लिए कहा था। कालू ने उसे सूरेवाला चौक पर बुलाया था। वह और प्रेमपाल दोनों गाड़ी व 10 अवैध पिस्तौल व 10 कारतूस गाड़ी में छुपाकर सूरेवाला चौक पर पहुंचे। सूरेवाला चौक पर कालू व उसका दोस्त इकबाल मिले।

आरोपित बंटी ने बताया कि कालू ने सारे असले खरीदने की बात कही। कालू व इकबाल ने सलाह दी कि हथियार बेचने में कम फायदा होता है, इसलिए सब मिलकर बड़ी लूट या डकैती डालते हैं। इससे काफी माल मिलेगा। सब सहमत हो गए और लूट करने की नीयत से गलती से पुलिस की गाड़ी को रोक लिया और हम गाड़ी व असले के साथ पकड़े गए।

Next Story