Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिंदर हत्याकांड को लेकर फौगाट खाप का अल्टीमेटम

खाप पदाधिकारियों ने प्रशासन को मंगलवार तक का अल्टीमेटम देते हुए आंदोलन की चेतावनी दी। इसके बाद उपायुक्त राजेश जोगपाल को ज्ञापन देते हुए मृतक के आश्रितों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता व एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग की गई।

बिंदर हत्याकांड को लेकर फौगाट खाप का अल्टीमेटम
X

स्वामी दयाल मंदिर परिसर फौगाट खाप की पंचायत। 

चरखी दादरी : बिंदर हत्याकांड को लेकर शुक्रवार को स्वामी दयाल मंदिर परिसर में फौगाट खाप की पंचायत हुई। पंचायत ने बिंदर के सभी हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं होने पर रोष प्रकट किया गया। खाप पदाधिकारियों ने प्रशासन को मंगलवार तक का अल्टीमेटम देते हुए आंदोलन की चेतावनी दी। इसके बाद उपायुक्त राजेश जोगपाल को ज्ञापन देते हुए मृतक के आश्रितों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता व एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग की गई।

ज्ञात रहे कि 7 फरवरी की देर शाम रोहतक एसटीएफ ने शहर के गौशाला क्षेत्र निवासी बिरेंद्र उर्फ बिंदर पर बलियाणा निवासी विक्की पंडित का हत्यारा मानकर गोली चला दी थी। एसटीएफ की गोली से बिंदर की मौत हो गई थी। गोली मारकर एसटीएफ टीम मौके से फरार हो गई थी। पुलिस ने वारदाता स्थल के समीप लगे सीसीटीवी की फुटेज में एक ब्रेजा गाडी नजर आई थी। जब गाड़ी की नंबर प्लेट पर लिखे गए नंबरों की पड़ताल की गई तो वह गाड़ी एक पुलिस कर्मचारी की मिली, जो फिलहाल रोहतक एसटीएफ टीम का सदस्य था। दादरी पुलिस ने वारदात में संलिप्त एक आरोपित पुलिसकर्मी को गाड़ी व रिवाल्वर सहित काबू कर लिया था मगर टीम में शामिल अन्य पुलिस जवानों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। जिसके कारण मृतक के परिजनों व शहर के लोगों में भारी रोष है।

शुक्रवार को स्वामी दयाल मंदिर परिसर में फौगाट खाप के नेतृत्व में व्यापारियों, सामाजिक संठनों व बार एसोसिएशन पदाधिकारियों की पंचायत हुई। पंचायत में बिंदर हत्याकांड पर रोष प्रकट किया गया।

खाप प्रधान बलवंत फौगाट ने कहा कि हत्या के अगले दिन ही आरोपितों की पहचान हो चुकी थी, मगर हत्या के 14 दिन बाद भी मात्र एक आरोपित की गिरफ्तारी पुलिस नाकामी साबित करती है। उन्होंने कहा कि मामला पुलिस कर्मचारियों से जुड़ा होने के कारण जिला पुलिस केवल खानापूर्ति कर रही है। एसटीएफ टीम में शामिल सभी पुलिस कर्मचारी बिंदर की हत्या में संलिप्त हैं। उनकी सबकी गिरफ्तारी होनी चाहिए।

पंचायत के बाद खाप पदाधिकारियों ने उपायुक्त राजेश जोगपाल को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में कहा कि सभी आरोपितों की गिरफ्तार मंगलवार की जाए तथा मृतक के आश्रितों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता व एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए। पंचायत ने अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर मंगलवार तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो बुधवार से आंदोलन शुरू किया जाएगा।

Next Story