Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में पंचायत का बड़ा फैसला, नशा बेचते पकड़े जाने पर लगाया जाएगा 71 हजार का जुर्माना

जींद में लोहचब में बढ़ते नशे के कारोबार को देखते हुए मंगलवार को गांव के शिव मंदिर में पंचायत का आयोजन किया गया।

जींद में पंचायत का बड़ा फैसला, नशा बेचते पकड़े जाने पर लगाया जाएगा 71 हजार का जुर्माना
X

हरिभूमि न्यूज : जींद

गांव लोहचब की पंचायत ने स्मैक, गांजा व अन्य नशे को लेकर बड़ा फैसला लिया है। पंचायत ने नशा बेचने वाले को 71 हजार रुपये जुर्माना तथा नशा बेचते पकड़वाने वाले को 20 हजार रुपये इनाम देने का फैसला लिया है। जिसके लिए बकायदा कमेटी का गठन किया गया है। हर बगड़ में जाति के हिसाब से दो-दो लोगों की कमेटी बनाई गई है जो नशा का कारोबार करने वाले लोगों पर नजर रखेंगी और पंचायत को उनके नामों से अवगत भी करवाएंगी।

गांव लोहचब में बढ़ते नशे के कारोबार को देखते हुए मंगलवार को गांव के शिव मंदिर में पंचायत का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता निवर्तमान सरपंच हरनारायण, जिला परिषद के उपाध्यक्ष उमेद रेढू, अधिवक्ता ईश्वर ने संयुक्त रूप से की। पंचायत में सभी जातियों के लोग शामिल हुए। लगभग दो घंटे चली पंचायत में गांव में बढ़ रहे नशा के कारोबार पर मंथन हुआ। वक्ताओं ने कहा कि गांव के जाति विशेष के कुछ लोग नशे का कारोबार कर रहे है। जिसमे औरतें भी शामिल है। सड़कों पर खड़े होकर महिलाओं को नशा बेचते देखा जा सकता है। नशेड़ियों का आवागमन भी गांव में लगा रहता है। नशे के कारोबार का प्रभाव गांव के लोगों पर भी पड़ रहा है और गांव की छवि भी खराब हो रही है। जिसे ग्रामीण किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। पंचायत में नशा का कारोबार करने वाले कुछ लोगों के नाम भी सामने आए। मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों को उनके नाम दे दिए गए। साथ ही नशे के कारोबारियों के खिलाफ पुलिस द्वारा चलाई जा रही मुहिम में पूरा सहयोग देने का निर्णय पंचायत द्वारा लिया गया। पंचायती फैसला सख्ती से लागू हो इसको लेकर बगड स्तर पर दो-दो व्यक्तियों की कमेटियां बनाई गई है। जो नशा का कारोबार करने वाले लोगों पर नजर रखेंगी और उसके बारे में पंचायत को अवगत करवाएंगी। जिसके आधार पर पुलिस के साथ मिलकर उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इस मौके पर ख्याली राम, धर्मपाल, राजबीर, धर्मबीर, रामनिवास नंबरदार, सरदारा, सुभाष, राजेश, रामकेश, भीरा, भोलू, रामनिवास, सुखबीर, सोनू, रिषीराम, भीरा समेत काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

जिला परिषद के निर्वतमान उपप्रधान उमेद रेढू ने बताया कि पंचायत में नशा कारोबारियों पर 71 हजार जुर्माना लगाने का निर्णय लिया है। 20 हजार रुपये उस व्यक्ति को इनाम दिया जाएगा जो नशा बेचने वाले को पकड़़वाएगा। उन्होंने बताया कि व्यक्ति ही नहीं बल्कि औरतें भी सड़क पर खडी होकर नशा बेचती हैं। नशेडियों का गांव में आवागमन लगा रहता है, खेतों से लाखों रुपये कीमत की केबल व अन्य बिजली उपकरण चोरी हो रहे हैं। अगर कोई व्यक्ति गांव में नशा बेचता पाया जाता है न केवल उसे जुर्माना लगेगा बल्कि पुलिस के हवाले भी किया जाएगा।

सदर थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि नशे के खिलाफ एसपी नरेंद्र बिजरानिया के दिशा निर्देशों पर बडा अभियान चलाया हुआ है। गांव लोहचब की पंचायत का फैसला काबिलेतारिफ है। लोगों के सहयोग से नशा बेचने वालों पर अंकूश लगाया जा सकता है। सूचना मिलते ही पुलिस नशा कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी और ग्रामीणों का सहयोग भी करेगी।

और पढ़ें
Next Story