Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा में होगा संगठन विस्तार, धनखड़ ने दिए यह संकेत

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में अभी तक 306 मंडल हैं और जिसमे से 256 का गठन हो चुका है। 140 मंडलों का प्रशिक्षण हो चुका है, बाकी का गठन और प्रशिक्षण भी पूरा करेंगे।

भाजपा में होगा संगठन विस्तार, धनखड़ ने दिए यह संकेत
X

ओमप्रकाश धनखड़ (फाइल फोटो)

हरियाणा भारतीय जनता पार्टी मामलों के प्रभारी विनोद तावड़े मंगलवार को भी चंडीगढ़ में ही रहे, प्रदेशाध्य़क्ष ओपी धनखड़ की संयुक्त अध्यक्षता में बैठक के दौरान संगठन को मजबूत करने के साथ ही आने वाले वक्त के लिए ऱणनीति तैयार की गई। मीटिंग के बाद में भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष ओपी धनखड़ ने कहा जिन मोर्चे में नियुक्ति की जानी है, उनको जल्द ही कर दिया जाएगा, उन्होंने आगे कहा कि पार्टी का स्थापना दिवस छह अप्रैल को है, प्रदेश में अभी तक 306 मंडल हैं और जिसमे से 256 का गठन हो चुका है। प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ ने बताया कि 140 मंडलों का प्रशिक्षण हो चुका है, बाकी का गठन और प्रशिक्षण भी पूरा करेंगे।

14 अप्रैल को भीमराव अंबेदकर जयंती को मनाया जाएगा

प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ ने साफ कर दिया है कि राज्य भर में अंबेदकर जयंती को मनाने की तैयारी है। उन्होंने यह भी कहा कि चार मार्च को पंचकूला में नगर निगमों के बिजनेस का बायलॉज को लेकर बैठककी जाएगी। कार्य संचालन बेहतर हो और नियमावली में सुधार हो इस क्रम में बैठक का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नगर निगमों में काम किया हैं, ऐसे बहुत से नेता है इसमे चंडीगढ़ मेयर को बुलाया गया है। शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज को भी बुलाया है साथ ही पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर भी इस दौरान मौजूद रहेंगे। उन्होंने कहा कि मेरी फसल मेरा ब्यौरा में कठिनाई आती हैं, इसको लेकर भी कमेटी बनायी गई है। भाजपा विधायक महिपाल ढांडा की अध्यक्षता में कमेटी काम करेगी। इसमें विधायक सुभाष सुधा, विधायक अभय यादव, महामंत्री वेदपाल समेत कई नेताओं को शामिल किया गया है, सभी अध्ययन करेंगे व कठिनाइयों को लेकर सुझाव देंगे।

धनखड़ ने हुड्डा पर साधा निशाना व कहा कि कांग्रेस अपना नकाब उठाए, साथ ही सवाल किया कि किसानों की स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट को कौन 6 साल तक दबाकर बैठा था ? हुड्डा अपनी कमेटी की सिफारिशों को लागू नही करवा पाए इसके लिए माफी मांगें। कांग्रेस केवल किसान हित की बात करती है यहवहीं लोग है जो डेढ़ रुपये के चेक दिया करते थे। धनखड़ ने आरोप लगाया कि लीडर शीप के सहारे आगे नही बढ़ सकते, इनकी लीडरशिप गेंहू और जों का अंतर नही बता सकते, विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने पर धनखड़ बोले हमनें इनके बाजू आजमाए हुए हैं। सदन में इनके दावों की खुद ही हवा निकल जाएगी।

लव जिहाद को लेकर कानून आने पर बोले धनखड़

उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश में इस तरह के कानून आए हैं। वर्तमान में यह बेहद ही अहम हो गया है। सरकार और गृहमंत्री इस दिशा में होमवर्क पूरा कर चुके हैं। कई राज्यो में इन कानूनों का लाभ हुआ है।

Next Story