Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कैथल मेें कोरोना वैक्सीन लगाने का विरोध, स्वास्थ्य विभाग की टीम वापस लौटी

जिले में दो जगहों पर कोरोना की वैक्सीन लगाई जानी थी जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम तैयार थी लेकिन ऐन मौके पर किसानों ने पहुंचकर विरोध के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना वैक्सीन लेकर बैरिंग लौट गई।

कैथल मेें कोरोना वैक्सीन लगाने का विरोध, स्वास्थ्य विभाग की टीम वापस लौटी
X

कैथल के जाट शाइनिंग स्टार स्कूल में कोरोना वैक्सीन लगाने का विरोध हुआ है। किसान यूनियन के सदस्यों ने आकर विरोध जताया है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी वैक्सीन को उठाकर बैरंग लौट गए हैं। कोविड-19 वैक्सीन लगाने का शुभारंभ कैथल के विधायक लीला राम के हाथों करवाया जाना था लेकिन उससे पहले ही भारतीय किसान यूनियन के लोग पहुंच गए और विरोध करना शुरू कर दिया। वहीं नागरिक अस्पताल कोरोना वैक्सीन लगाने का कार्यक्रम शुरू हुआ। कोरोना की पहली वैक्सीन का टीका डॉ संदीप जैन को लगाया गया है ।

गौरतलब है कि जिले में दो जगहों पर कोरोना की वैक्सीन लगाई जानी थी जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम तैयार थी लेकिन ऐन मौके पर किसानों ने पहुंचकर विरोध के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना वैक्सीन लेकर बैरिंग लौट गई। किसानों ने प्रधान होशियार गिल ने कहा यह वैक्सीन सुरक्षित नहीं है। सुरक्षित रहती तो अनिल विज की तबीयत ना बिगड़ती। सरकार को बच्चों के साथ खिलवाड़ नहीं करने देंगे।


बता दें कि जिला में सरकारी व प्राइवेट संस्थानों के 6750 स्वास्थ्य कर्मियों को पंजीकृत किए गए हैं, जिनमें 5 हजार 223 सरकारी तथा 1 हजार 527 प्राइवेट संस्थानों के स्वास्थ्य कर्मी हैं। दवाई रखने के लिए जिला में कुल 29 कोल्ड चैन प्वाइंटस बनाए गए हैं, जहां पर सभी इंतजाम पुख्ता किए गए थे।

Next Story