Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिसार : विरोध के बीच ओपी धनखड़ जीजेयू में पहुंचे, बोले -ये आंदोलनकारी किसान नहीं

प्रदेशाध्यक्ष के आगमन के चले यूनिवर्सिटी में प्रवेश के सभी तीनों गेटों पर आंदोलनकारी सुबह से ही डेरा डाले हुए थे। विरोध प्रदर्शन को देखते पुलिस प्रशासन पूरी तरह अलर्ट दिखाई दिया। तीनों गेट पुलिस छावनी में तब्दील थे।

हिसार : विरोध के बीच ओपी धनखड़ जीजेयू में पहुंचे, बोले -ये आंदोलनकारी किसान नहीं
X

हिसार में जीजेयू के बाहर प्रदर्शन करते किसान।

हरिभूमि न्यूज : हिसार

आंदोलनकारियों के विरोध के बावजूद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ शनिवार को गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय पहुंचे और हिसार भाजपा जिला कार्यकारिणी के प्रशिक्षण शिविर को संबोधित किया। इससे पहले प्रदेशाध्यक्ष के आगमन के चले गुजवि में प्रवेश के सभी तीनों गेटों पर आंदोलनकारी सुबह से ही डेरा डाले हुए थे। विरोध प्रदर्शन को देखते पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट दिखाई दिया। तीनों गेट पुलिस छावनी में तब्दील थे।

जैसे ही धनखड़ का काफिला गुजवि के गेट नंबर एक के करीब पहुंचा तो पुलिस ने मानव श्रृंखला बना ली और आंदोलनकारियों को आगे नहीं बढ़ने दिया। इससे पहले की आंदोलनकारी कुछ समझ पाते धनखड़ का काफिले गुजवि के गेट नंबर एक से अंदर प्रवेश कर गया। इसी बीच आंदोलनकारियों को धनखड़ के गुजवि परिसर में प्रवेश करने का आभास हुआ तो वे हाथों में काले झंडे लेकर नारेबाजी करने लगे।

कांग्रेस व वामपंथी दल का आंदोलन : धनखड़

गुजवि में पत्रकारों से बातचीत करते हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने प्रदेश में चल रहे किसान आंदोलन पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह सिलेक्टिड आंदोलन है। यह किसानों का नहीं बल्कि राजनीतिक आंदोलन है। वास्तव में यह किसान का आंदोलन न होकर वामपंथी दल और कांग्रेस पार्टी द्वारा संचालित आंदोलन है। उन्होंने कहा कि ये पार्टियां आंदोलन में अपने पार्टी के झंडों के साथ शामिल हो ताकि स्थिति स्पष्ट हो सके। इनका एकमात्र एजेंडा है और वह है भाजपा-जजपा का विरोध करना। इनका किसान हितों से दूर तक कोई लेना-देना नहीं।


Next Story