Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Omicron Variant : हरियाणा में अब मास्क पहनना अनिवार्य, नहीं तो कटेगा चालान

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि साउथ अफ्रीका में पाए गए कोविड के नए वेरिएंट ओमीक्रान ( Omicron Variant ) व संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग व संबंधित विभागों के अधिकारियों को सचेत रहना होगा और कोविड से बचाव के लिए लोगों को लगातार जागरूक करते हुए टेस्टिंग को बढाना होगा।

Delhi Coronavirus: दिल्ली में कोरोना की
X

Omicron Variant : हरियाणा में अब मास्क पहनना अनिवार्य, नहीं तो कटेगा चालान

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ( Health Minister Anil Vij ) ने कहा कि कोविड-19 के नए ओमीक्रोन वेरिएंट ( Covind New Omicron Variant ) के फैलाव व सम्भावित तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए राज्य के सभी जिलों के उपायुक्त, पुलिस आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने जिलों में जनता के बीच कोरोना प्रोटोकॉल जैसे कि मास्क पहनना, सोशल डिस्टेसिंग, हाथों की सफाई इत्यादि को सख्ती से लागू करवाना सुनिश्चित करेंगे।

इसके अलावा, सभी स्कूल, उद्योग, व्यवसाय परिसर, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड इत्यादि जहां भीड़ होने की संभावना है, वहां सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वालों का चालान करने के लिए पुलिस, स्वास्थ्य, नगर निगम और निकाय समितियों जैसी एजेंसियों द्वारा सख्त कदम उठाए जाएंगे। विज स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। विज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आम जनता को इस संबंध में जागरूक करने के लिए सभी सार्वजनिक स्थानों पर मुनादी इत्यादि भी कराई जाए। अनिल विज ने कहा कि साउथ अफ्रीका में पाए गए कोविड के नए वेरिएंट ओमीक्रान व संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग व संबंधित विभागों के अधिकारियों को सचेत रहना होगा और कोविड से बचाव के लिए लोगों को लगातार जागरूक करते हुए टेस्टिंग को बढाना होगा।

कोविड मरीज का जीनोम सीक्वेंस भी किया जाए

बैठक में अधिकारियों ने मंत्री को अवगत कराया कि साउथ अफ्रीका में पाए गए नए वेरिएंट की जांच के लिए जीनोम सीक्वेंस की आवश्यकता है जिस के लिए हरियाणा में एक मशीन लगाई गई है, इस पर विज ने कहा कि यदि कोई कोविड का नया मरीज हरियाणा में पाया जाता है तो उसकी कोविड की जीनोम सीक्वेंस पता लगाया जाए ताकि अन्य लोगों को संक्रमित होने से बचाया जा सकें। स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराया गया कि कोविड संक्रमण के संबंध में अभी राज्य में प्रतिदिन लगभग 12000 टेस्टिंग की जा रही है और अब इसे बढ़ाया जा रहा है और आने वाले दिनों में 40 हजार प्रति दिन टेस्टिंग करने का लक्ष्य रखा गया है ।

राज्य में 'एट रिस्क' वाले देशों से आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग की जाए

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि ''एट-रिस्क'' वाले देशों जैसे कि यूनाइटेड किंगडम, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिंबाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इजरायल सहित यूरोप के देशों से आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग एयरपोर्ट हो रही है और जो लोग नेगेटिव पाए जा रहे हैं, उनकी 8वें दिन स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा टेस्टिंग की जा रही हैं ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सकें। इस पर विज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि विदेश से आने वाले यात्रियों से स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा रोजाना टेलीफोन पर बातचीत की जाए और उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी हासिल की जाए ताकि यदि कोई लक्षण नजर आते हैं तो उसका उपचार शुरू किया जा सकें।

और पढ़ें
Next Story