Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब वृद्धों को पेंशन के लिए नहीं होगा भटकना

प्रत्येक गांव में बनाए गए कॉमन सर्विस सेंटरों (सीएससी) पर ही पेंशन वितरण केंद्र स्थापित किया जा रहा है। इससे जहां वृद्धों को लाइनों में लगने की समस्या से निजात मिलेगी।

अब वृद्धों को पेंशन के लिए नहीं होगा भटकना
X

 बैंक के बाहर लगी वृद्धों की लाइन। (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज. जींद

वृद्ध लोगों को अब पेंशन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। वृद्धों को समय पर पेंशन मिले, इसके लिए प्रत्येक गांव में बनाए गए कॉमन सर्विस सेंटरों (सीएससी) पर ही पेंशन वितरण केंद्र स्थापित किया जा रहा है। इससे जहां वृद्धों को लाइनों में लगने की समस्या से निजात मिलेगी वहीं वे जब जी चाहे सीएससी सेंटर पर जाकर पेंशन ले सकेंगे। अबतक बुजुर्गों की पेंशन या तो बैंक में आती रही है या फिर डाकघरों में। कई बार पेंशन के लिए बुजुर्गों को बैंक की लाइन में खड़ा होना पड़ता था। अब इस तरह की समस्या से निजात मिल जाएगी।

गौरतलब है कि जिले में 600 से ज्यादा कॉमन सर्विस सेंटर चल रहे हैं और इन सभी सेंटरों पर पेंशन वितरण केंद्र खोला जा रहा है। सीएससी पर ही बुजुर्गों की पेंशन निकासी हो जाएगी। हालांकि ज्यादातर बुजुर्गों ने जिस बैंक खाते में पेंशन आ रही है, उसका एटीएम कार्ड बनवा रखा है और इससे वह पेंशन निकलवा लेते हैं लेकिन तीन महीने में एक बार बायोमेट्रिक पंचिंग जरूरी होती है नहीं तो पेंशन रुक सकती है। इसलिए बुजुर्गों को बैंकों में जाना पड़ता है। वृद्धावस्था सम्मान भत्ता योजना के तहत जिले भर में एक लाख नौ हजार लोग बुढ़ापा पेंशन ले रहे हैं। बुढ़ापा पेंशन के तहत हर महीने 2250 रुपये बुजुर्गों को मिलते हैं। गांव में कॉमन सर्विस सेंटर पर पेंशन वितरण की सुविधा मिलने के बाद बुजुर्गों को बैंकों मेंं जाने की जरूरत नहीं रहेगी।

जल्द शुरू हो जाएगी सभी केंद्रों पर सुविधा : विवेक शर्मा

सीएससी के जिला प्रबंधक विवेक कौशिक ने बताया कि बुढ़ापा पेंशन ही नहीं दूसरी योजनाओं की पेंशन सुविधाएं भी सीएससी पर मिल सकेंगी। बुजुर्ग से कोई भी पैसा नहीं लिया जाएगा। पेंशन निकासी करने पर सीएससी संचालक को कमीशन मिलेगा। जल्द ही जिले के सभी सीएससी पर बुढ़ापा पेंशन वितरण सुविधा शुरू हो जाएगी। इससे वृद्धों को काफी फायदा मिलेगा।

Next Story