Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब फ्री में ड्राइविंग सीख सकती हैं लड़कियां

ड्राइविंग सीखने के लिए लडक़ी दस जमा दो कक्षा तक शिक्षित होनी चाहिए और उसकी आयु कम से कम 18 साल होनी चाहिए। विधायक नैना सिंह ने दादरी जिला प्रशासन की ओर से रेडक्रास सोसायटी द्वारा अंत्योदय परिवारों की बेटियों के लिए फ्री ड्राइविंग ट्रेनिंग दिलवाने का शुभारंभ किया।

अब फ्री में ड्राइविंग सीख सकती हैं लड़कियां
X

 ड्राइविंग ट्रनिंग का शुभारंभ करतीं नैना चौटाला।

चरखी दादरी

अब लड़कियां ड्राइविंग स्कूलों में फ्री में ड्राइविंग सीख सकती हैं। विधायक नैना सिंह चौटाला ने कहा कि लड़कियों को प्रोत्साहन दिया जाए तो वे हर मंजिल को आसानी से पार सकती हैं।विधायक नैना सिंह ने दादरी जिला प्रशासन की ओर से रेडक्रास सोसायटी द्वारा अंत्योदय परिवारों की बेटियों के लिए फ्री ड्राइविंग ट्रेनिंग दिलवाने का शुभारंभ किया। लोहारू रोड पर वाटिका के सामने कारें चला रहीं प्रशिक्षु महिला चालकों को हरी झंडी दिखाकर विधायक नैना सिंह ने रवाना किया।

ड्राइविंग सीखने के लिए लडक़ी दस जमा दो कक्षा तक शिक्षित होनी चाहिए और उसकी आयु कम से कम 18 साल होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि महिलाओं के सम्मान के लिए लघु सचिवालय परिसर में एक प्रतीक्षाकक्ष और क्रच बनाया गया है। वुमन एमपावरमेंट के लिए प्रशासन भविष्य में और भी महत्वपूर्ण योजनाएं लागू करेगा। उन्होंने बताया कि जिले के दो ड्राइविंग स्कूलों में अंत्योदय परिवारों की लड़कियों को यह ट्रेनिंग निशुल्क दिलवाई जाएगी।

विधायक नैना सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन को महिला सशक्तिकरण की दिशा में चलाए जाने वाले कार्यक्रमों में सरकार व उनकी ओर से भरपूर सहयोग दिया जाएगा। विधायक ने कहा कि आज की लड़कियां बहुत ही समझदार और हिम्म्तवाली हैं। लड़कियां अब हर क्षेत्र में लड़कों का मुकाबला करती दिखाई देती हैं। फिर वह चाहे खेल हो या पढाई- लिखाई। उन्होंने जिला प्रशासन की इस पहल को सराहनीय कदम बताया। उपायुक्त प्रदीप गोदारा ने बताया कि मुख्यमंत्री के अंत्योदय परिवार उत्थान कार्यक्रम को शुरू किए जाने के बाद इस योजना को जिला प्रशासन ने शुरू किया है।



और पढ़ें
Next Story