Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने छुड़वाई कंपकंपी

जानकारी के अनुसार पर्वतीय इलाकों से प्रदेश के मैदानी हिस्सों से बह रही उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी है। रविवार को अच्छी धूप खिलने के बावजूद शीत लहर से राहत नहीं मिली।

मौसम की जानकारी: राजस्थान में कहीं हल्की बूंदाबांदी, कहीं तेज हवाओं ने मौसम किया सर्द
X
मौसम की जानकारी राजस्थान (फाइल फोटो)

हिसार। देश के पर्वतीय इलाकों में हो रही जबरदस्त बर्फबारी के चलते उत्तर भारत में कड़कड़ाके की ठंड पड़ रही है। हरियाणा के मैदानी इलाकों में चल रही उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण जनजीवन पर व्यापक असर पड़ा है।

कई जिलों में अधिकतम पारा सामान्य से 6 डिग्री तक नीचे चला गया है। शीत लहर के कारण लोगों को दिन में भी राहत नहीं है। उधर, मौसम वैज्ञानिकों ने 16 जनवरी तक उत्तर-पश्चिमी हवाएं चलने तथा रात्रि के पारे में गिरावट आने की उम्मीद जताई है।

जानकारी के अनुसार पर्वतीय इलाकों से प्रदेश के मैदानी हिस्सों से बह रही उत्तर-पश्चिमी हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी है। रविवार को अच्छी धूप खिलने के बावजूद शीत लहर से राहत नहीं मिली।

दिनभर चली शीत लहर के कारण रोहतक, अंबाला, करनाल, नारनौल का अधिकतम पारा सामान्य से 6 डिग्री सेल्सियस तक नीचे चला गया। प्रदेश के अंबाला में अधिकतम तथा नारनौल में न्यूनतम पारा सबसे कम रहा। प्रदेश के कई हिस्सों में सुबह के समय धुंध छाई रही, जिसके चलते आवागमन प्रभावित रहा।

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ. मदन खीचड़ के अनुसार राज्य में 16 जनवरी तक मौसम आमतौर पर खुश्क रहने की संभावना है। इस दौरान दिन के तापमान में हल्की बढ़ोतरी होगी तथा उत्तर पश्चिमी शीत हवाएं चलने की संभावना से रात्रि तापमान में गिरावट आएगी।

इसके अलावा अलसुबह व देर रात्रि धुंध छाए रहने की भी संभावना है। डॉ. खीचड़ के अनुसार 13 जनवरी की रात्रि व 14 जनवरी को राज्य में कहीं- कहीं आंशिक बादलवाई रहने की आशंका है।



Next Story