Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

SBI से बड़ी ठगी का 'नटवरलाल' काबू, राजस्थान के किसानों को दिलाए थे लोन, 131 केसों में था वांछित

इन मामलों में तत्कालीन बैंक शाखा प्रबंधक और फील्ड आफिसर पहले ही गिरफ्तार हो गए थे। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद रिमांड पर लिया है।

SBI से बड़ी ठगी का नटवरलाल काबू, राजस्थान के किसानों को दिलाए थे लोन, 131 केसों में था वांछित
X
धारूहेड़ा पुलिस थाना

हरिभूमि न्यूज : रेवाड़ी

पुलिस ने एसबीआई की धारूहेड़ा शाखा में बैंक अधिकारियों के साथ सांठगांठ से फर्जी दस्तावेजों के आधार पर लोन दिलाने के 131 मामलों में नामजद जफर दीन उर्फ जफरू को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इन मामलों में तत्कालीन बैंक शाखा प्रबंधक और फील्ड आफिसर पहले ही गिरफ्तार हो गए थे। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद रिमांड पर लिया है।

पुलिस के अनुसार अलवर जिले के लखनोल का रहने वाला जफरू एसबीआई की ओर से दर्ज कराए जालसाजी के 131 मामलों में वांछित था। उसने वर्ष 2008 में बैंक अधिकारियों के साथ सांठगांठ करते हुए राजस्थान के टपूकड़ा और तिजारा क्षेत्र के किसानों को उनके पास उपलब्ध जमीन को कई गुणा ज्यादा दिखाते हुए उन्हें बड़े लोन दिलाए थे। वह किसानों की अधिक जमीन के कागज बनाकर उसे बैंक के पास रहना रखवा था। जमीन के आधार पर बैंक किसानों को लोन जारी कर देता था। पुलिस के अनुसार किसानों को मोटा लोन दिलाने के बदले वह उनसे मोटी रकम वसूल करता था, जिसका एक हिस्सा संबंधित बैंक अधिकारियों तक भी जाता था।

मामले का खुलासा उस समय हुआ, जब लोन लेने वाले अधिकांश किसानों ने उसे चुकाने से हाथ खड़े दिए। इसके बाद बैंक की ओर से किसानों की जमीन नीलाम करने की प्रक्रिया शुरू की गई, तो पता चला कि लोन लेने वाले किसानों के पास कागजों में दिखाई गई जमीन वास्तव में है ही नहीं। इसके बाद बैंक के लिए लोन की वसूली का रास्ता ही बंद हो गया। बैंक की ओर से वर्ष 2018 में 131 केस दर्ज कराए, जिनमें तत्कालीन बैंक मैनेजर और फील्ड ऑफिसर भी शामिल थे। उन दोनों को केस दर्ज होने के कुछ समय बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया था, परंतु गफरू पुलिस को लगातार चकमा दे रहा था।

और पढ़ें
Next Story