Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Kisan Andolan में कनाडा से आए नवविवाहित जोड़े ने सौंपी शगुन की राशि

इस दौरान दंपति ने कहा कि यह किसान आंदोलन एक जन क्रांति है। ये हमारा सौभाग्य है कि हम किसी तरह भी इस क्रांति का हिस्सा बनें।

Kisan Andolan में कनाडा से आए नवविवाहित जोड़े ने सौंपी शगुन की राशि
X

बहादुरगढ़ : टीकरी बार्डर के मंच पर किसान नेताओं को शगुन राशि सौंपता नवविवाहित जोड़ा।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर पिछले तीन महीने से चल रहे किसान आंदोलन को देश ही नहीं बल्कि दूसरे देशों में रह रहे भारतीयों का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। हर कोई आंदोलन में आकर किसानों की आवाज बुलंद कर रहा है। टीकरी बार्डर पर कनाडा से आए एक नवविवाहित जोड़े ने आंदोलन को समर्थन दिया। इस दंपति ने अपने विवाह में एकत्रित हुई तमाम शगुन राशि आंदोलन चलाने के लिए किसान नेताओं को सौंप दी।

दरअसल, मानसा (पंजाब) जिले के गांव उड्डत सैदेवाला के निवासी बलजीत सिंह की गत 21 जनवरी को मनवीर कौर से शादी हुई थी। यह परिवार अब कनाडा में रहता है। शुक्रवार को बलजीत सिंह व मनवीर कौर टीकरी बार्डर पर पहुंचे। यहां इन्होंने मंच पर आकर किसान नेताओं को अपने विवाह में एकत्रित हुई शगुन की राशि दान कर दी। बलजीत और उसकी पत्नी की इस पहल की धरने पर मौजूद तमाम किसानों सराहना की। मंच पर इन्हें सम्मानित किया गया। इनकी तरक्की और खुशहाल जीवन की कामना की।

इस दौरान दंपति ने कहा कि यह किसान आंदोलन एक जन क्रांति है। ये हमारा सौभाग्य है कि हम किसी तरह भी इस क्रांति का हिस्सा बनें। उधर, किसान नेताओं ने कहा कि तीन महीने से आंदोलन जारी है। आंदोलन से लोगों का भावनात्मक जुड़ाव भी बढ़ रहा है। आंदोलन में शामिल हरेक किसान में समर्पण भाव है। इस नवविवाहित जोड़े की इस पहल ने समाज को एक सकारात्मक संदेश दिया है।

Next Story