Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Cyber Fraud : ना ओटीपी आया और ना ही मैसेज, खाते से निकल गए 2.97 लाख रुपये

पंजाब के होशियारपुर शहर की सिक्योरिटी ड्यूटी से वापसी पर जब पीड़ित कर्मचारी बैंक में गया, तब उसे अपने से हुए फ्रॉड की जानकारी मिली। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Cyber Fraud: अब बैंक अकाउंट से पैसा चोरी होने पर ऐसे वापस मिलेंगे पैसे, बनाई गई है 12615 एक्सपर्ट की टीम
X

Cyber Fraud

हरिभूमि न्यूज. गोहाना ( सोनीपत)

शहर की चोपड़ा कालोनी निवासी एक खाताधारक के खाते से 2.97 लाख रुपये उड़ा लिए गए। खाताधारक से न तो कोई ओटीपी पूछा गया और न ही उसके पास तीनों आहरणों में से किसी का कोई एसएमएस आया। पंजाब के होशियारपुर शहर की सिक्योरिटी ड्यूटी से वापसी पर जब पीड़ित कर्मचारी बैंक में गया, तब उसे अपने से हुए फ्रॉड की जानकारी मिली। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

फूल कंवार मलिक पुत्र हरि चंद मलिक चोपड़ा कालोनी में रहता है। उसका बैंक खाता शहर के देवीलाल चौक स्थित एसबीआई में है। उसके अनुसार 23 मार्च को जब वह पंजाब के होशियारपुर शहर में सिक्योरिटी ड्यूटी कर रहा था, तब उसके मोबाइल फोन पर एक काल आई। काल करने वाले ने खुद को एसबीआई का कर्मचारी बताया। उसने 1.13 लाख रुपये की एफडी करने की बात कही तथा फोन पर केवाईसी करवाने के लिए कहा। फूल कंवार मलिक के अनुसार संदेह होने पर उसने कह दिया कि वह खुद बैंक में आ कर केवाईसी करवा लेगा। फोन करने वाले ने कुछ और जानकारियां मांगने का नाकाम प्रयास भी किया।

खाताधारक का कहना है कि उसने एटीएम से 500 रुपये निकलवा लिए। तब तक उसका पूरा बैलेंस सही-सलामत था। वह अवकाश पर 27 मार्च को वापस गोहाना आया। वह 30 मार्च को बैंक में गया। तब वह यह जानकर स्तब्ध रह गया कि उसके खाते से 23 मार्च को 1.13 लाख रुपये, 25 मार्च को 1.78 लाख रुपये और 26 मार्च को 6 हजार रुपये निकलवा लिए गए। इनमें से किसी भी आहरण का न तो उसके पास कोई एमएमएस आया, न कोई ओटीपी आया अथवा अन्य कोई जानकारी उससे मांगी गई। उसके खाते से तीन बार में कुल 2.97 लाख रुपये निकलवा लिए गए। पुलिस ने पीडि़त खाताधारक के बयान पर अज्ञात आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और जांच शुरू कर दी।

Next Story