Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय में 135 फीट ऊंचा लगेगा राष्ट्रीय ध्वज

महिला विश्वविद्यालय की भवन निर्माण विंग के एसडीओ सुमेर मलिक ने प्रस्तावित और चल रहे कार्यों की सूची पेश की। वहीं विश्वविद्यालय के आयुर्वेदिक कालेज के लिए फामेर्सी भवन के निर्माण, दो बड़े कमरे, शौचालय निर्माण व नवीनतम तकनीक के अग्निशमन यंत्र लगाने को मंजूरी दी गई।

भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय में 135 फीट ऊंचा लगेगा राष्ट्रीय ध्वज
X

बैठक में एसडीओ सुमेर सिंह, कुलसचिव डा. नीलम मलिक, कुलपति प्रो. राजेंद्र कुमार अनायत। 

हरिभूमि न्यूज : गोहाना

भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय में भवन निर्माण व नवीनीकरण सलाहकार समिति की बैठक हुई। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजेंद्र कुमार अनायत ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में विश्वविद्यालय परिसर में 135 फीट ऊंचाई पर राष्ट्रीय ध्वज लगाया जाएगा। विश्वविद्यालय के आयुर्वेदिक कालेज के लिए फामेर्सी भवन के निर्माण, दो बड़े कमरे, शौचालय निर्माण व नवीनतम तकनीक के अग्निशमन यंत्र लगाने को मंजूरी दी गई।

बैठक में महिला विश्वविद्यालय की भवन निर्माण विंग के एसडीओ सुमेर मलिक ने प्रस्तावित और चल रहे कार्यों की सूची पेश की। विश्वविद्यालय के रीजनल केंद्र जींद में खरल, रेवाड़ी में कृष्णा नगर और विश्वविद्यालय के साउथ कैंपस भैंसवाल कलां में चल रहे निर्माणकार्यों की प्रगति रिपोर्ट समिति के सम्मुख रखी। समिति ने आयुर्वेदिक कालेज के लिए फामेर्सी भवन के निर्माण, 100-100 विद्यार्थियों के बैठने की क्षमता के दो कमरे, शौचालय और नवीनतम तकनीक के अग्निशमन यंत्र लगाने को मंजूरी दी।

ये सुविधाएं बढ़ने के बाद आयुर्वेदिक कालेज में एमडी कोर्स शुरू करने और बीएएमएस में सीटें बढ़ाने का रास्ता साफ हो जाएगा। साउथ कैंपस भैंसवाल कलां में छात्रावास में अतिरिक्त कमरों का निर्माण होगा। समिति ने विश्वविद्यालय में दो अतिथि गृह के के नवीनीकरण, डिग्री कालेज के मुख्य द्वार के नवीनीकरण व कन्या गुरुकुल विद्यालय के द्वार के नवीनीकरण को मंजूरी दी।

बैठक की अध्यक्षता कुलपति प्रो. राजेंद्र कुमार अनायत ने की। उन्होंने अधिकारियों को लाइब्रेरी के भवन व टीचिंग ब्लाक में लिफ्ट के लंबित कार्यों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में विश्वविद्यालय की कुलसचिव डा. नीलम मलिक, आयुर्वेदिक कालेज के डीन प्रो. महेश दाधीच, राज्य सरकार के चीफ आर्किटेक्ट नामिनी नीतिश सेठ, तकनीकी सलाहकार सतीश सोलंकी, डा. अर्जुन प्रसाद, राजेश मनोचा, एसडीओ सुमित कुमार, लाभ सिंह हुड्डा, बछेत्र सिंह, बलबीर श्योकंद आदि मौजूद रहे।

Next Story