Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मर्डर केस में खुलासा : जिसने बनाई हत्या करने की योजना उसी को उतार दिया मौत के घाट, आरोपी ने खुद भी दी जान, जानें पूरा मामला

पुलिस ने गत 16 अक्टूबर के केस को सुलझाते हुए हत्या करने के दो आरोपितों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया। जहां से आरोपितों को एक दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया।

मर्डर केस में खुलासा : जिसने बनाई हत्या करने की योजना उसी को उतार दिया मौत के घाट, आरोपी ने खुद भी दी जान, जानें पूरा मामला
X

पुलिस गिरफ्त में हत्या के आरोपी।

हरिभूमि न्यूज. जींद

जिस युवक के साथ मिलकर दूसरे युवक की हत्या की योजना बनाई थी। उसी युवक ने दूसरे के साथ मिलकर योजना बनाने वाले युवक को ही मौत के घाट उतार दिया। फिर शव को खुर्दबुर्द करने की नियत से पड़ोसी गांव के जल घर की खाली बेसमेंट में डाल दिया। खास बात यह भी है कि जिस युवक ने योजना को क्रॉस कर योजना बनाने वाले की हत्या की थी। उसने भी मिट्टी का तेल छिड़क आग लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मामला गांव ढाठरथ का है। पुलिस ने गुत्थी को सुलझाते हुए हत्या करने के दो आरोपितों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया। जहां से अदालत ने आरोपितों को एक दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया।

क्या था मामला

गांव ढाठरथ निवासी हरिओम (28) का शव गत 16 अक्टूबर को पडोसी गांव खरकगादिया जल घर के नीचे बने खाली स्पेस से बरामद हुआ था। हरिओम की हत्या गला घोंट कर की गई थी। पुलिस ने मृतक के पिता की शिकायत पर गांव ढाठरथ निवासी जयदेव तथा दलजीत व कुछ अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया था। मृतक को दोनों आरोपितों के साथ अंतिम बार बाइक पर देखा गया था। पुलिस ने कारवाई करते हुए गांव ढाठरथ निवासी अतुल तथा दलजीत को गिरफ्तार कर लिया। जबकि तीसरे आरोपित जयदेव ने मिट्टी का तेल छिडक कर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने दोनों आरोपितों को अदालत में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया है।

शिकारी खुद बना शिकार, योजना में शामिल युवक ने पल्टी बाजी

मृतक हरिओम ने गांव के ही जयदेव के साथ मिलकर गांव के ही दलजीत की हत्या की योजना बनाई थी। जयदेव ने हरिओम द्वार रचे जा रहे हत्या के षड़यंत्र के बारे में दलजीत को बता दिया। जिसके बाद दलजीत ने जयदेव के साथ मिलकर हरिओम की हत्या की योजना रच डाली। मृतक हरिओम आरोपित जयदेव, दलजीत तथा अतुल नशे के आदि है। योजना के अनुसार 15 अक्टूबर देर शाम को अतुल तथा दलजीत मृतक हरिओम को जयदेव के खेत में बने कमरे मेें ले गए। जहां पहले नशा किया फिर दलजीत तथा जयदेव ने हरिओम की रस्सी से गला घोंट कर हत्या कर दी। फिर हरिओम के शव को बाइक पर लेकर पडोसी गांव खरकगादिया में बने जल घर में टैंक के निचे बने खाली स्पेस में डाल दिया था।

योजना को पलटने वाले आरोपित की हो चुकी है मौत

गांव ढाठरथ निवासी हरिओम की हत्या का आरोपित गांव के ही जयदेव की जलने से मौत हो चुकी है। 28 अक्टूबर को जयदेव ने मिट्टी का तेल छिडकर आग लगा ली थी। जिस पर परिजन उसे पहले हिसार ले गए। बाद में हालात न सुधरने पर दिल्ली ले जाया गया। जहां उसकी मौत हो गई।

Next Story