Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jind : आठ माह बाद दर्ज हुआ हत्या का मामला, जानें कैसे हुआ खुलासा

गांव खेड़ा खेमावती निवासी संजय (17) का शव (Dead Body) सात फरवरी को गांव के निकट से गुजर रही माइनर के साथ डाली गई पराली के ढेर से बरामद हुआ था। त्या के कारणों का खुलासा पुलिस (Police) को मिली एफएसएल रिपोर्ट तथा चिकित्सकों की राय के बाद हुआ।

Jind : आठ माह बाद दर्ज हुआ हत्या का मामला, जानें कैसे हुआ खुलासा
X

मृतक के शव की जांच करते हुए पुलिस कर्मियों का फाइल फोटो।

हरिभूमि न्यूज : जींद

गांव खेड़ा खेमावती निवासी संजय की लगभग आठ माह पहले चोट मारकर हत्या Killing) की गई थी। हत्या के कारणों का खुलासा पुलिस को मिली एफएसएल रिपोर्ट (FSL Report) तथा चिकित्सकों की राय के बाद हुआ। सदर थाना सफीदों पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत (Complaint) पर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। हत्या के संदेह में मृतक को घटना वाली शाम बुलाकर ले जाने वाले गांव के ही युवक है।

गांव खेड़ा खेमावती निवासी संजय (17) का शव सात फरवरी को गांव के निकट से गुजर रही माइनर के साथ डाली गई पराली के ढेर से बरामद हुआ था। मृतक के मुंह से खून निकल रहा था और सिर में चोट का निशान भी था। हालांकि परिजनों ने किसी पर संदेह नहीं जताया था। उस दौरान पुलिस ने इतफाकिया कार्रवाई कर शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया था। मृतक का बिसरा जांच के लिए लैबोरेटरी भेजा गया था।

हैचरी की गाड़ी में लोडिंग का काम करता था मृतक, साथी बुलाकर ले गया था घर से

मृतक संजय के भाई मीनू ने बताया कि संजय हैचरी की गाड़ियों पर लोडिंग का कार्य करता था। छह फरवरी शाम को उसका साथी नितिन संजय को घर से बुलाकर ले गया था। सात फरवरी को सुबह संजय का शव माइनर के निकट पराली के ढेर से बरामद हुआ था। मीनू ने संदेह जताया कि नितिन व उसके साथियों ने उसके भाई की हत्या की है। हत्या की वजह के पीछे घटना से कुछ समय पूर्व संजय को नितिन द्वारा शराब पिलाई जाने पर कहासुनी बताई गई।

सदर थाना सफीदों के जांच अधिकारी हरिकिशन ने बताया कि एफएसएल तथा चिकित्सकों की रॉय में संजय की मौत सिर में लगी चोट के कारण हुई थी। जिसके कारण रिपोर्ट मिलने के बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Story