Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नगरपालिका ने काट दी रेलवे की केबल, कई सेवाएं बाधित

समालखा में नगर पालिका द्वारा स्टेशन के नजदीक पार्क का निर्माण कार्य करवाया जा रहा है, जेसीबी मशीन द्वारा रेलवे पार्क की जमीन के अंदर मौजूद रेलवे से संबंधित कई केवल कट गई।

नगरपालिका ने काट दी रेलवे की केबल, कई सेवाएं बाधित
X

माैके पर पहुंची पुलिस और सीएम फ्लाइंग।

समालखा (पानीपत)

समालखा में नगर पालिका द्वारा स्टेशन के नजदीक पार्क का निर्माण कार्य करवाया जा रहा है लेकिन पार्क में अब तक के सभी कार्यों को लेकर भ्रष्टाचार का मामला सामने आया था। जिसमें पानीपत से कई उच्च अधिकारियों ने आकर भी निरीक्षण किया था। उसी को लेकर गुरुवार को भी सीएम फ्लाइंग ने रेलवे पार्क का निरीक्षण किया था। इसमें फ्लाइंग व नगरपालिका अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा कई जगह गड्ढे खोदे गए थे। जिसमें जेसीबी मशीन द्वारा रेलवे पार्क की जमीन के अंदर मौजूद रेलवे से संबंधित कई केवल कट गई और उससे रेलवे की कई सेवाएं बाधित हुई थी। पानीपत से कई इंजीनियर मौके पर पहुंचे जिन्होंने मौके का निरीक्षण किया और उन्होंने पूरी जांच पड़ताल करने के बाद पता लगाया कि गड्ढे नगर पालिका द्वारा खोदे गए थे। मौके पर पहुंचे सेक्शन इंजीनियर नरेश कौशिक द्वारा नगरपालिका के कर्मचारियों को मौके पर बुलाया गया। वहीं रेलवे अधिकारियों के साथ आरपीएफ के अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे। घटना को लेकर रेलवे अधिकारी जीआरपी पुलिस चौकी में पहुंचे और वहां पहुंचकर अधिकारियों ने नगरपालिका अधिकारियों को फोन कर मौके पर बुलाया। जिसके बाद नगर पालिका के कर्मचारी जेसीबी के साथ मौके पर पहुंचे और जेसीबी द्वारा टूटी हुई केवल को ठीक करने का कार्य शुरू किया गया।

रेलवे पार्क में सीएम फ्लाईंग द्वारा जांच के दौरान जेसीबी से जगह-जगह मिट्टी खुदाई कराई गई। इससे पार्क की दिवार के साथ गुजर रही सिग्नल केबल कट गई। सिग्रल बंद होने के बाद रेलवे अधिकारियों को इसकी जानकारी मिली और जांच करते हुए रेलवे पार्क में केबल कटे होने के पता चला। जिसके बाद जीआरपी और रेलवे अधिकारियों द्वारा जेसीबी चालक को मौके पर ही पकड़ लिया गया जबकि सीएम फ्लाईंग वहां से जा चुकी थी। इसके बाद नपा अधिकारी को मौके पर बुलाया गया वहीं दूसरी तरफ रेलवे की टैक्नीकल टीम भी सैक्शन इंजिनियर नरेश कौशिक के साथ मौके पर पहुंची। देर शाम तक सिग्नल केबल को ठीक करने का कार्य जारी किया जा रहा था। सैक्शन इंजिनियर नरेश कौशिक ने बताया कि दूसरी तरफ से गुजर रही दूसरी वैकिल्पक केबल से सिग्नल को जोड़ा गया है। केबल ठीक कराने को लेकर नपा को एस्टीमेट के लिए कहा गया है।

Next Story