Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एमएसएमई उत्पादों को मिलेगा अंतरराष्ट्रीय बाजार : हरियाणा सरकार ने इन कंपनियों के साथ साइन किया एमओयू

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Deputy Chief Minister Dushyant Chautala) की उपस्थिति में ‘वॉलमार्ट वृद्घि’ तथा ‘हकदर्शक’ कंपनी के साथ हरियाणा सरकार का एमओयू हुआ। सरकार की ओर से एमएसएमई विभाग के महानिदेशक विकास गुप्ता तथा ‘वॉलमार्ट वृद्घि’ की ओर से नितिन दत्त तथा ‘हकदर्शक’ की ओर से सीईओ अनिकेत डॉयगर ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

एमएसएमई उत्पादों को मिलेगा अंतरराष्ट्रीय बाजार : हरियाणा सरकार ने इन कंपनियों के साथ साइन किया एमओयू
X

हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने प्रदेश के 'एमएसएमई' के उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय बाजार उपलब्ध करवाने के लिए आज एक और अहम कदम बढ़ाया है। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Deputy Chief Minister Dushyant Chautala) की उपस्थिति में 'वॉलमार्ट वृद्घि' तथा 'हकदर्शक' कंपनी के साथ हरियाणा सरकार का एमओयू हुआ। सरकार की ओर से एमएसएमई विभाग के महानिदेशक विकास गुप्ता तथा 'वॉलमार्ट वृद्घि' की ओर से नितिन दत्त तथा 'हकदर्शक' की ओर से सीईओ अनिकेत डॉयगर ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

डिप्टी सीएम, जिनके पास उद्योग एवं वाणिज्य विभाग का प्रभार भी है, ने इस अवसर पर बताया कि राज्य सरकार प्रदेश में अधिक से अधिक उद्योग लगाना चाहती है ताकि युवाओं को रोजगार हासिल हो। बड़े उद्योगों के अलावा एमएसएमई को बढ़ावा देने के लिए 'हरियाणा उद्यम एवं रोजगार नीति-2020' में निवेशकों के लिए कई महत्वपूर्ण रियायतें दी गई हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जहां केंद्र सरकार की 'मेक-इन-इंडिया' नीति को अपना रही है वहीं 'मेक-इन-हरियाणा' नीति को तवज्जो दे रही है ताकि हरियाणा निवेश-गंतव्य बन सके।

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि प्रदेश सरकार ग्रामीण क्षेत्र में उद्योग लगाने को प्राथमिकता दे रही है, इससे जहां शहरों की तरफ होने वाले पलायन पर रोक लगेगी वहीं गांवों के कारीगरों को अपना उत्पाद कम खर्च में तैयार कर आर्थिक स्थिति को मजबूत करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने बताया कि 'वॉलमार्ट' जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों के सहयोग से ग्रामीण क्षेत्र के पारंपरिक बुनकरों, हथकरघा व अन्य हस्तशिल्पियों को उनके उत्पाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शित करने में राज्य सरकार सहयोग करेगी।

उन्होंने 'हकदर्शक' कंपनी के सीईओ अनिकेत डॉयगर को निर्देश दिए कि वे देश के प्रत्येक राज्य की दो-दो,तीन-तीन कल्याणकारी व बेहतरीन योजनाओं का खाका तैयार करें ताकि हरियाणा अपने 'वन-ब्लॉक,वन-प्रोडक्ट' योजना के तहत उनको लागू करने की संभावनाओं पर काम कर सके।

एमएसएमई विभाग के महानिदेशक विकास गुप्ता ने इस अवसर पर जानकारी दी कि 'वॉलमार्ट' के साथ एमओयू साइन होने के बाद प्रदेश के एमएसएमई के उत्पाद जहां 24 देशों में प्रदर्शित होंगे वहीं 48 बैनर्स के नीचे 10,500 स्टोर्स में उपलब्ध हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि एमएसएमई को जरूरत के अनुसार उद्योग-विशेषज्ञों से प्रशिक्षण भी दिलवाया जाएगा। गुप्ता ने यह भी बताया कि 'हकदर्शक' कंपनी के साथ एमओयू साइन होने पर प्रदेश के एमएसएमई को सरकार व निजी कल्याण की सेवाओं तक पहुंचने में आसानी होगी। इस कंपनी की देश के 22 राज्यों में 7,000 कल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी वैबसाइट पर उपलब्ध है जिससे एमएसएमई को लाभ होगा।

इस अवसर पर 'वॉलमार्ट वृद्घि' की ओर से नितिन दत्त तथा 'हकदर्शक' की ओर से सीईओ अनिकेत डॉयगर ने हरियाणा सरकार के साथ आज हुए एमओयू पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि हरियाणा एक प्रगति की तरफ अग्रसर हो रहा राज्य है, उनकी कंपनी प्रदेश के एमएसएमई के उत्पादों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन करने में भरपूर सहयोग करेगी।

Next Story