Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में वारदात : मां-बेटे की हत्या कर घर के आंगन में दफनाए शव

फिलहाल यह खुलासा नहीं हो पाया है कि मां-बेटे की हत्या किसने की और उनकी हत्या कब हुई। गढ़ी थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जींद में वारदात : मां-बेटे की हत्या कर घर के आंगन में दफनाए शव
X

घटना स्थल का जायजा लेते पुलिस अधिकारी।

हरिभूमि न्यूज. जींद

गांव ढाबीटेकसिंह में मां-बेटे की हत्या कर दोनों के शवों को उनके मकान में गड्ढा खोदकर दबाया गया था और ऊपर ईंटे लगाई गई थी। घटना की सूचना पाकर एएपी नरवाल, डीएसपी ताहिर हुसैन, सीन आफ क्राइम टीम के साथ मौके पर पहुंचे और हालातों का जायजा लिया। फिलहाल यह खुलासा नहीं हो पाया है कि मां-बेटे की हत्या किसने की और उनकी हत्या कब हुई। गढ़ी थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।


गांव ढाबीटेकसिंह निवासी 64 वर्षीय रणबीर कौर अपने 47 वर्षीय बेटे हरप्रीत के साथ गांव में रह रही थी। दोनों की हत्या का खुलासा वीरवार को उस दौरान हुआ जब रणबीर कौर के दूसरे बेटे पोला की पत्नी इंद्रजीत कौर अपनी ससुराल गांव ढाबीटेकसिंह पहुंची। पोला की मौत लगभग दो साल पहले हो गई थी। इंद्रजीत कौर अपनी छह वर्षीय बेटी के साथ पटियाला में रह रही थी। सास रणबीर कौर तथा देवर हरप्रीत घर पर न दिखाई देने पर वह गढ़ी थाना पहुंची और दोनों के गायब होने की शिकायत दी। डीएसपी ताहिर हुसैन पुलिस बल के साथ गांव ढाबीटेकसिंह पहुंचे और मकान को खंगाला तो वहां खून के धब्बे पड़े दिखाई दिए।


जिस पर पुलिस को अनहोनी घटना का संदेह हुआ। डयूटी मैजिस्टेट की देखरेख में आंगन की खुदाई करवाई गई तो दोनों मां-बेटा के शव बरामद हुए। हालांकि यह खुलासा नहीं हो पाया कि रणबीर कौर व उसके बेटे हरप्रीत की हत्या किसने की और इसके पीछे क्या कारण रहे। बहु इंद्रजीत कौर ने बताया कि वह 13 जनवरी से अपनी सास तथा देवर के पास फोन कर रही है लेकिन कोई फोन को रिसीव नहीं कर रहा है। जिससे साफ जाहिर है कि दोनों मां-बेटे की हत्या पखवाड़ा पहले हुई है। फिलहाल गढ़ी थाना पुलिस विभिन्न एंगलों से जांच कर रही है।

Next Story