Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंत्री अनिल विज ने पानीपत नगर निगम कमिश्नर को निलंबित करने की सिफारिश भेजी, जाने क्यों

बकाया गृह कर और बाकी कर नहीं वसूलने वाले व लापरवाही दिखाने वाले अधिकारियों व कर्मियों की अब खैर नहीं हैं ।

Anil Viz
X
स्वास्थ्य एवं गृहमंत्री अनिल विज (फाइल फोटो)

योगेंद्र शर्मा. चंडीगढ़

प्रदेश के नगर निगम (Municipal Corporation) क्षेत्र में गृहकर और कमर्शियल टैक्स बकाया की वसूली के मामले में लापरवाही दिखाने वाले अधिकारियों व कर्मियों की अब खैर नहीं हैं। हरियाणा के शहरी निकाय मंत्री अनिल विज (Minister Anil Vij) ने लापरवाह अफसरों पर कार्रवाई के संकेत दिए हैं। इतना ही नहीं विज ने पानीपत नगर निगम कमिश्नर (एचसीएस) के रिकवरी संबंधी मामले में फेल होने पर तुरंत ही निलंबित करने की संस्तुति हरियाणा सरकार (Haryana Government) के मुख्य सचिव को भेजी है।

शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने पानीपत नगर निगम में तैनात निगम कमिश्नर सुशील कुमार को तुरंत प्रभाव से निलंबन के लिए मुख्य सचिव को अपनी संस्तुति भेज दी है। इस तरह से अब उन पर गाज गिरनी तय है।

दूसरी ओर पानीपत के अलावा दस के दस निगमों में संपत्तिकर, फायर टैक्स, शो टैक्स, वाटर टैक्स, सीवरेज व इलेक्ट्रीसिटी टैक्स, सेनीटाइजेशन चार्जेस, जमीन की बिक्री, बिल्डिंग एप्लीकेशन फीस जैसे मामलों में वसूली बेहद ही धीमी गति के की जा रही है।

जिलेवार नगर निगमों के बकाया के हालात 15 दिसंबर 2019 तक इस तरह से हैं-

1.अंबाला जिले की बात करें, तो सभी तरह के कर बकाया की राशि- 2269.20 लाख

2. यमुना नगर नगर निगम में 5328.12 लाख की राशि बकाया है।

3. सोनीपत नगर निगम में भी कुल बकाया राशि 9665.07 लाख बकाया

4. गुरुग्राम में भी गृहकर, सीवरेज समेत सभी कर बकाया 57053.68 लाख बकाया

5. करनाल में भी लगभग 18 तरह की फीस और कर बकाया 16872.49 लाख

6. हिसार नगर निगम में भी सभी तरह बकाया की राशि 1793.27 लाख की राशि

7. फरीदाबाद नगर निगम क्षेत्र में भी बकाया के हालात 42030.13 लाख

8. पानीपत नगर निगम जहां पर सबसे पहले गाज गिरी वहां- 25918.66 लाख की राशि बकाया है। अकेले गृह एवं कमर्शियल बिल्डिंग की राशि 139 करोड़ बकाया है। जिसमें वसूली मात्र 18.50 करोड़ बकाया है।

9. पंचकूला नगर निगम में बकाया के हालात पर गौर करें, तो 1298.50 लाख बकाया

10. रोहतक नगर निगम की बात करें, तो वहां पर बकाया 6703.18 लाख

कुल मिलाकर सभी नगर निगमों में बकाया राशि 168932.30 लाख बकाया है।

Next Story