Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गूंज रही मेवात की बेटी के मुक्कों की गूंज

बेहद प्रतिभाशाली तमन्ना का चयन साई (स्पोर्ट्स अथारिटी आफ इंडिया) में हो गया है जहां उन्हें और बेहतर बाक्सिंग के गुर सीखने को मिलेंगे।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गूंज रही मेवात की बेटी के मुक्कों की गूंज
X

मात्र 16 वर्ष की उम्र में ही जिला मेवात की बेटी तमन्ना के मुक्कों की गूंज देश विदेशों में भी गूंजने लगी है। जार्डन में आयोजित जूनियर एशियन चैंपियनशिप में तमन्ना की प्रस्तुति व मुक्कों की धमक से सारा स्टेडियम गूंज उठा। तमन्ना की इस प्रस्तुति पर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

बता दें कि तमन्ना का जन्म 2006 में जिले के गांव मांडीखेड़ा में हुआ। मांडी खेड़ा में ही तमन्ना पिछले 5 वर्षों से बाक्सिंग की कोचिंग ले रही है। इससे पूर्व भी तमन्ना ने राष्ट्रीय स्तर पर भी कई प्रतियोगिताओं में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। तमन्ना के पिता मूल रूप से हिसार निवासी हैं जो जेबीटी अध्यापक है।

तमन्ना के कोच मनोज कुमार ने बताया कि सही में तमन्ना की मेहनत रंग ला रही है। बेहद प्रतिभाशाली तमन्ना का चयन साई (स्पोर्ट्स अथारिटी आफ इंडिया) में हो गया है जहां उन्हें और बेहतर बाक्सिंग के गुर सीखने को मिलेंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार खेलों को लेकर युवा पीढ़ी को खुलकर समर्थन दे रही है। सरकार की नीतियों के कारण ही हरियाणा के खिलाड़ी देश दुनिया में अपनी चमक बिखेर रहे हैं। तमन्ना की इस उपलब्धि पर उनके पिता अनिल कुमार ने बताया कि बेटियां बेटों से अब कहीं भी कम नहीं है। तमन्ना को यहां तक पहुंचाने में उनके कोच मनोज कुमार का विशेष योगदान रहा है जिन्होंने लगातार 5 वर्षों तक उनकी बेटी को अपने पास रख बाक्सिंग के गुर सिखाए।


और पढ़ें
Next Story