Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari : हरियाणा में फिर सक्रिय हुआ मानसून, कई जिलों में झमाझम बरसात, आगे भी परिवर्तनशील रहेगा मौसम

मौसम वैज्ञानिकों ने 21 सितंबर तक राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में हवाओं व गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना जताई है। इस दौरान कुछ एक स्थानों पर तेज बारिश भी हो सकती है।

Mausam Ki Jankari : मानसून के विदा होने के बाद भी उत्तर भारत के कई राज्याें में कल से बारिश की संभावना, येलो अलर्ट जारी
X

मौसम की जानकारी

हिसार। प्रदेश में एक बार फिर मानूसन ( Mansoon ) सक्रिय हो गया है। वीरवार को प्रदेश के उत्तर व दक्षिण में कहीं-कहीं तथा पश्चिमी इलाकों में कुछ -एक स्थानों पर हल्की से माध्यम बारिश हुई। खासकर रोहतक, रेवाड़ी, नारनौल, जींद, भिवानी आदि जिलों में बारिश होने से मौसम खुशनुमा बन गया। उधर, मौसम वैज्ञानिकों ने 21 सितंबर तक राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में हवाओं व गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना जताई है। इस दौरान कुछ एक स्थानों पर तेज बारिश भी हो सकती है।

सामान्य से 21 फीसद अधिक बारिश

बंगाल की खाड़ी में बने एक कम दबाब के क्षेत्र व साथ में राजस्थान के ऊपर एक साइक्लोनिक सकुर्लेशन बनने तथा टर्फ रेखा दक्षिण में आने से मानसूनी हवाओं की सक्रियता बढ़ने से हरियाणा राज्य में पिछले एक सप्ताह से बीच-बीच में ज्यादातर स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग के आंकडों के अनुसार प्रदेश में 1 जून से 14 सितंबर तक 505.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जोकि सामान्य से 21 फीसद ज्यादा है। इस अवधि तक सामान्य बारिश 418.8 मिलीमीटर होती है।

परिवर्तनशील रहेगा मौसम

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय ( Haryana Agricultural University ) के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ. मदन खीचड़ के अनुसार बंगाल की खाड़ी में एक और कम दबाब के क्षेत्र बनने के साथ साथ अरब सागर से भी नमी वाली हवाएं आने से प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से माध्यम बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि 21 सितंबर तक हरियाणा में मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने की उम्मीद है। इस दौरान प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में बारिश की संभावना है।

Next Story