Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक लोकसभा क्षेत्र में शुरू होंगी कई बड़ी परियोजनाएं, जींद तक हो सकता है रैपिड रेल का विस्तार, CM खट‍्टर और रेल मंत्री से मिले सांसद अरविंद

सांसद अरविंद शर्मा ने बताया कि साऊथ हरियाणा इकोनोमिक रेल कॉरिडोर के सर्वे पर रेलमंत्री, उत्तर रेलवे और उतर पश्चिम रेलवे और हरियाणा रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड से फजिबलिटी सर्वे की मंजूरी मिली है, इसका सर्वे अत्याधुनिक लेडार तकनीक से करवाया जाएगा।

रोहतक लोकसभा क्षेत्र में शुरू होंगी कई बड़ी परियोजनाएं, जींद तक हो सकता है रैपिड रेल का विस्तार, CM खट‍्टर और रेल मंत्री से मिले सांसद अरविंद
X
सीएम मनोहर लाल से मुलाकात करते सांसद अरविंद शर्मा।  फाइल फोटो

रोहतक। रोहतक लोकसभा क्षेत्र में जल्द ही बड़ी परियोजनाएं शुरू होंगी, इसके लिए सांसद अरविंद शर्मा ने केंद्र्रीय रेल मंत्री व मुख्यमंत्री से मिलकर कई बडे़ प्रोजेक्ट उनके समक्ष रखे, जिन पर रेल मंत्री व सीएम ने सहमति जताई और आश्वासन दिया कि जल्द ही इन परियोजनाओं पर काम शुरू हो जाएगा। सांसद शर्मा की लोकसभा के सबसे बड़े महत्वकांक्षी रेल प्रॉजेक्ट फरुखनगर से लोहारू तक वाया झज्जर, चरखी दादरी और बाढडा के रास्ते 'साऊथ हरियाणा इकोनोमिक रेल कॉरिडोर' के सर्वे पर विस्तार से चर्चा हुई। जिसके तहत इस इकोनॉमिक रेल कॉरिडोर के माध्यम से प्रदेश की दो महत्त्वपूर्ण रेलवे परियोजना 'हिसार एयरपोर्ट से प्रस्तावित बिजवासन टर्मिनल ( दिल्ली एयरपोर्ट )' ( वाया हांसी, महम, रोहतक, झज्जर और गुरुग्राम के रास्ते ) और 'दिल्ली से लोहारू' ( वाया गुरुग्राम, झज्जर और चरखी दादरी के रास्ते) पर सहमति बनी।

मंगलवार सुबह सांसद अरविंद शर्मा ने हरियाणा भवन में लोकसभा क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात की। इससे पहले सांसद ने रेलवे से जुडे प्रोजेक्टों को लेकर रेल मंत्री से भी मुलाकात की। सांसद ने बताया कि साऊथ हरियाणा इकोनोमिक रेल कॉरिडोर के सर्वे पर रेलमंत्री, उत्तर रेलवे और उतर पश्चिम रेलवे और हरियाणा रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड से फजिबलिटी सर्वे की मंजूरी मिली है, इसका सर्वे अत्याधुनिक लेडार तकनीक से करवाया जाएगा। इसकी लंबाई तकरीबन 110 किलोमीटर की होगी और रेलवे कोरिडोर की स्पीड लिमिट 130 से 160 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी।

सांसद ने बताया कि ये रेल कॉरिडोर हरियाणा प्रदेश के आर्थिक विकास में मील का पत्थर साबित होगा क्योंकि ये हरियाणा और दिल्ली को गुजरात की चार बंदरगाहों ( कांडला, मुंद्रा, नवलखी और जखाऊ) से सीधे तौर पर जोड़ेगा साथ ही पश्चिमी डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के फीडर रूट के तौर पर भी काम करेगा। जिससे खास तौर पर 'झज्जर देश और विदेश के बड़े उद्योगपतियों को उनके उद्योग झज्जर में लगाने के लिए आकर्षित करेगा'। इसके इलावा ये रेल कॉरिडोर 'झज्जर को सीधे तौर पर झज्जर से बहादुरगढ और सोनीपत, झज्जर से गुरुग्राम और दिल्ली, झज्जर' को 'फरीदाबाद और पलवल को ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर के माध्यम से जोड़ेगा'। सांसद ने बडे़ प्रोजेक्टों को लेकर सहमति जताने पर रेल मंत्री व मुख्यमंत्री का भी आभार जताया।

रेल कॉरिडोर पर बनाएं जाएंगे छह स्टेशन

सांसद अरविंद शर्मा ने बताया कि रेल कॉरिडोर के तहत '6 स्टेशन ( दादरी तोए, झज्जर, एम पी माजरा, छुछकवास, मतानहैल और बिरोहड़-खाचरोली )' झज्जर जिले मे प्रस्तावित है। 'झज्जर के रास्ते दिल्ली से राजस्थान और गुजरात की ओर जाने वाली ट्रेनों को शॉर्टकट मिलेगा। झज्जर के रास्ते दिल्ली से भिवानी, दिल्ली से सीकर और झुंझुनू, दिल्ली से बीकानेर और जैसलमेर,दिल्ली से जोधपुर और बाड़मेर, दिल्ली से गोगामेड़ी, हनुमानगढ़ और श्री गंगानगर साथ ही दिल्ली से गांधीधाम, भुज और द्वारका की ओर जाने वाली ट्रेनों को छोटा रास्ता मिलेगा।

स्टेट हाईवे 15ए होगा नेशनल हाईवे में परिवर्तित

सांसद ने बताया कि गुरुग्राम से झज्जर वाया फरूखनगर' स्टेट हाईवे 15ए को नेशनल हाईवे मे परिवर्तित करवाने और 'बहादुरगढ से वाया बादली,याकूबपुर होते हुए हेलीमंडी' तक के रोड को स्टेट हाईवे मे परिवर्तित करवाने पर भी चर्चा हुई जिस पर मुख्यमंत्री की मंजूरी मिल गई है।

रैपिड रेल का भी जींद तक विस्तारित करने का प्लान

सांसद ने बताया कि दिल्ली से रोहतक के बीच हाल ही में आरआर टीएस के दूसरे चरण के तहत रैपिड रेल की मंजूरी मिली थी और अब उसका भी जल्द ही सर्वे शुरू करवाया जाएगा और भविष्य में जींद तक रैपिड विस्तारित करने का प्लान है।

और पढ़ें
Next Story