Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ढाबे पर खाना खाने आए परिवार से आभूषण लूटे, विरोध करने पर बाराती को मारी गोली

राहगीरों की मदद से घायल को निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मुआयना कर बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

ढाबे पर खाना खाने आए परिवार से आभूषण लूटे, विरोध करने पर बाराती को मारी गोली
X

गोली मारते हुए बदमाश। 

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर बदमाशों का कहर देखने को मिला। हथियारबंद बदमाशों ने पिस्तौल के बल पर ढाबे पर खाना-खा रहे परिवार से सोने के आभूषण लूट लिए। उसी दौरान ढाबे पर खाना-खाने के लिए रूके बाराती को बदमाशों ने लूटना चाहा तो विरोध करने पर बदमाशों ने बाराती को गोली मार दी। वारदात को अंजाम देकर बदमाश फरार हो गए। राहगीरों की मदद से घायल को निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मुआयना कर बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया हैं। ढाबे के बाहर हुई वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई। जिसमें तीन बदमाश दिखाई दे रहे हैं। पुलिस की टीमें बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रही हैं। वहीं पुलिस अधीक्षक जश्नदीप सिंह शुक्रवार देर शाम को मुरथल थाने में पहुंचे। जहां उन्होंने रिकार्ड खंगालने के साथ-साथ बदमाशों को जल्द काबू करने के दिशा-निर्देश दिए।

गांव डेरा धनौली असंध करनाल निवासी इंद्रजीत सिंह ने बताया कि वह पंजाब के पटियाला से बारात में शामिल होकर यूपी के मेरठ जा रहे थे। देर रात वह खाना-खाने के लिए मुरथल स्थित रॉयल ढाबे पर रुक गए। रात को सवा 12 बजे के बाद वह खाना-खाकर ढाबे से बाहर निकले तो उन्होंने देखा कि तीन युवक कार सवार परिवार के सदस्यों पर पिस्तौल ताने हुए हैं । जिस पर उसने विरोध जता दिया। उसके विरोध करने पर बदमाशों ने उसे मारने की धमकी दी। वह वापस अंदर जाने लगे तो पीछे से एक बदमाश ने गोली चला दी। गोली उनकी कमर के पास जाकर लगी। जिसके बाद बदमाश फरार हो गए। उसे पता लगा कि बदमाश दिल्ली के राजपाल के परिवार से दो सोने की चेन, एक कड़ा व चार अंगूठी लूटकर ले गए हैं। बदमाशों के जाने के बाद लोगों ने तुरंत इंद्रजीत सिंह को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

भतीजे व बहन सहित अन्य के साथ खाना खाने आया था राजपाल

दिल्ली का राजपाल अपनी बहन, भतीजे व एक अन्य के साथ हाईवे से गुजर रहे थे। इसी बीच उन्होंने रॉयल ढाबे पर खाना खाने के लिए गाड़ी को रोक दिया। वह घटना के समय गाड़ी के अंदर थे कि इसी बीच तीन युवक आए थे। उन्होंने पिस्तौल दिखाकर कीमती सामान देने को कहा था। जिस पर राजपाल के परिवार के दो सोने की चेन, चार अंगूठी व कड़ा निकालकर खिड़की खोलकर उन्हें दे दिया था। उसके बाद बदमाशों ने उन्हें गाड़ी से उतार दिया था। बाद में वहां पहुंचे इंद्रजीत ने विरोध किया तो उन्होंने गोली मार दी।

थाने में पहुंचे पुलिस अधीक्षक, टीमों का गठन

घटना के बाद शुक्रवार को एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा मुरथल थाना में पहुंचे। उन्होंने मामले में जांच की जिम्मेदारी मुरथल थाना के साथ ही सीआईए की टीमों को भी हैं। साथ ही उन्होंने हाईवे पर रात को गश्त बढ़ाने व अपराधियों का पूरा डाटा एकत्रित करने के आदेश भी दिए हैं। उनका कहना है कि जल्द बदमाशों का पता लगाकर गिरफ्तार किया जाएगा। ढाबे पर लगे सीसीटीवी में तीन संदिग्ध दिखाई दे रहे हैं। जिसकी गंभीरता से जांच की जा रही हैं। बदमाशों की तलाश के लिए पुलिस टीमें दबिंश दे रही हैं।

Next Story