Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शराब तस्करों की संपत्ति होगी कुर्क, रोहतक के एसपी ने आयकर विभाग और ईडी को लिखा पत्र

रोहतक एसपी के इस आदेश के बाद अवैध तस्करों में हड़कम्प मचा हुआ है। एसपी राहुल शर्मा ने नई योजना पर काम करते हुए गांव कानही के पास ढाबे पर स्प्रिट बेचने वाले तस्करों पर बड़ी कार्रवाई की है

शराब की पेटी जब्त
X
 शराब 

विजय अहलावत : रोहतक

अवैध कारोबार करके संपत्ति (Property) बनाने वाले लोगाें की अब खैर नहीं है। न केवल उनकी अवैध कमाई से खरीदी गई संपत्ति जब्त की जाएगी बल्कि उनकों सलाखों के पीछे भेजा जाएगा। एसपी राहुल शर्मा ने नई योजना पर काम करते हुए गांव कानही के पास ढाबे पर स्प्रिट बेचने वाले तस्करों पर बड़ी कार्रवाई की है। उनकी करीबन 65 एकड़ ऐसी जमीन की पहचान की गई है, जिसे काली कमाई से खरीदा गया है। इस जमीन की जांच एवं कार्रवाई के लिए एसपी ने आयकर विभाग और ईडी को पत्र भेजा है।

एसपी के इस आदेश के बाद अवैध तस्करों में हड़कम्प मचा हुआ है। इसके साथ ही जिला में नशीले पदार्थों की तस्करी से जुड़े लोगों की सूूची बनाई जा रही है जिनकी दो नम्बर की कमाई से खरीदी गई जमीन भविष्य में जब्त की जाएगी। पुलिस की तरफ से तस्करों के खिलाफ उठाया गया यह कदम अब तक की बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। जिससे भविष्य में अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।

जांच में मिली 65 एकड़ जमीन

मामले का खुलासा होने के बाद एसपी राहुल शर्मा ने अपने स्तर पर जांच करवाई। जांच रिपोर्ट में पता चला कि अब तक करोड़ों रुपये की ईएनए स्प्रिट तस्करी कर बेची जा चुकी है। कई साल से यह धंधा चल रहा है। जिससे उन्होंने करीबन 65 एकड़ जमीन भी बनाई है। इसलिए इस जमीन को जब्त करने के लिए आयकर समेत ईडी को सिफारिश की गई है।

उसे समय सदर पुलिस ने मौके से कुलदीप, संदीप, रणदीप, मोहन, अब्दुल इमरान, मुश्ताक अंसारी, अमित, सतबीर, गोतम, जसमेर, गुड्डू, लाल सिंह, अभिषेक, दिनेश, मोहम्मद असमद, अजय कुमार, बीलसन, तरसेम सिंह, रोहताश, हरिशंकर, रमेश, सोनू, राजू, दीपक और जयकरण को गिरफ्तार किया था। एसपी की सख्ती के बाद शराब और नशा तस्करों में हड़कम्प मचा हुआ है। उनमें डर है कि उन्होंने नशीले पदार्थ बेचकर जो जमीनें खरीदी हैं वह जब्त हो जाएंगी। साथ ही पुलिस हर थाना क्षेत्र में तस्करों पर शिकंजा कसती जा रही है।

11 अक्टूबर को कान्ही के पास एक ढाबे से मिला था नशीला पदार्थ 

11 अक्टूबर को सीएम फ्लाइंग ने पानीपत रोड पर गांव कान्ही पेट्रोल पम्प के पास भोले दा ढाबा पर छापेमारी की थी। सूचना मिली थी कि ढाबे के मालिक कुलदीप, संदीप, रणदीप शराब बनाने में प्रयुक्त होने वाले ईएनए स्प्रिट काे बिना लाइसेंस के डिस्टलरी से खरीद कर बेचते हैं। बाद में जिसका प्रयोग निम्न स्तर की शराब बनाने के लिए किया जाता है। मौके पर कुलदीप व संदीप निवासी गांव रुखी जिला सोनीपत को हिरासत में लिया गया। कुलदीप से 32500 रुपये व संदीप से 64000 रुपये बरामद हुए। उन्होंने बताया कि यह रुपये स्प्रिट बेचकर कमाए हैं। ढाबे पर 17 मजदूर मिले। जिन्हें जबरदस्ती अपहरण कर रखा गया था। इसके अलावा प्लास्टिक ड्रमों में 200-200 लीटर स्प्रिट पाई गई। करीबन 40 हजार लीटर स्प्रिट बरामद हुआ। जांच में सामने आया कि कुलदीप, रणदीप, संदीप फर्जी दस्तावेज बनाकर डिस्टलरी मालिकों, डिस्टलरी में तैनात आबकारी विभाग से मिलीभगत करते थे। जिससे सरकार को बड़े स्तर पर आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा था।

ड्यूटी मजिस्ट्रेट की देखरेख में स्प्रिट नष्ट

सदर पुलिस द्वारा जब्त स्प्रिट को सदर थाना में जगह नहीं होने के चलते आईएमटी थाना परिसर में रखा गया था। पुलिस को डर था कि कहीं यहां भी स्प्रिट का गलत प्रयोग न हो जाए। क्योंकि स्िप्रट से शराब बनाई जाती है। इसलिए कोर्ट से अनुमति लेकर ड्यूटी मजिस्ट्रेट तैनात करवाया गया। जिसकी निगरानी में स्प्रिट नष्ट कर दी गई। आईएमटी थाना प्रभारी अमित हर्षवर्धन आईपीएस ने बताया कि पुलिस ने स्िप्रट को अधिकारियों की मौजदूगी में नष्ट कर दिया है।

236 बोतल अवैध शराब बरामद, केस दर्ज 

पुलिस ने नशा तस्करों के खिलाफ चलाए अभियान के दौरान दस आरोपितों को गिरफ्तार किया। आरोपितों के पास से 236 बोतल अवैध शराब जब्त की गई है। अलग अलग थाना पुुलिस ने अपने क्षेत्र में अभियान चलाकर कार्रवाई की है।

शराब तस्करी से लोगों ने अवैध तरीके से जमीन खरीदी है। 65 एकड जमीन की पहचान की गई है। आगामी कार्रवाई के लिए आयकर विभाग और ईडी काे पत्र लिखा गया है। इसके अलावा पुलिस द्वारा जब्त की गई 44 हजार लीटर स्प्रिट नष्ट की गई है ताकि इसका दुरुपयोग न हो सके। - राहुल शर्मा, एसपी, रोहतक

Next Story