Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश के महान वैज्ञानिकों को सम्मानित करेगा कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, 8 अप्रैल को समारोह का आयोजन

अवार्ड के रूप में वैज्ञानिकों को गोयल पुरस्कार के रूप में दो लाख रुपए व राजीब गोयल अवार्ड के रूप में एक लाख रूपए की धनराशि के साथ-साथ मैडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा।

देश के महान वैज्ञानिकों को सम्मानित करेगा कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, 8 अप्रैल को समारोह का आयोजन
X

हरिभूमि न्यूज : कुरुक्षेत्र

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में 8 अप्रैल को सीनेट हाल में गोयल अवार्ड सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा। सीनेट हाल में होने वाले इस समारोह में देश के 8 महान वैज्ञानिकों को सम्मानित किया जाएगा। इस समारोह में राष्ट्रीय मान्यता बोर्ड, नई दिल्ली के डॉ. केके अग्रवाल मुख्यातिथि होंगे व कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सोमनाथ सचदेवा कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। गोयल अवार्ड कमेटी के संयोजक डॉ. संजीव अरोड़ा ने बताया कि विश्वविद्यालय के लिए यह गौरव का विषय है कि देश के महान वैज्ञानिकों को 8 अप्रैल शुक्रवार को विश्वविद्यालय में गोयल अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। इस अवार्ड के रूप में वैज्ञानिकों को गोयल पुरस्कार के रूप में दो लाख रुपए व राजीब गोयल अवार्ड के रूप में एक लाख रूपए की धनराशि के साथ-साथ मैडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा।

4 वैज्ञानिकों को गोयल पुरस्कार व 4 वैज्ञानिकों को राजीब गोयल यंग साईंटिस्ट अवार्ड के लिए चयन किया

गोयल अवार्ड कमेटी के संयोजक डॉ. संजीव अरोड़ा ने बताया कि कुवि कुलपति प्रोफेसर सोमनाथ सचदेवा की अध्यक्षता में गोयल अवार्ड कमेटी ने वर्ष 2018-19 के लिए 4 वैज्ञानिकों को गोयल पुरस्कार व 4 वैज्ञानिकों को राजीब गोयल यंग साईंटिस्ट अवार्ड के लिए चयन किया है जिन्हें शुक्रवार को होने वाले गोयल अवार्ड समारोह में सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गोयल अवार्ड 2018-19 के लिए अप्लाईड साईंस के क्षेत्र में योगदान के लिए ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसिज, न्यू दिल्ली डॉ. एनके मेहरा, केमिकल साइंसिज के लिए सीएसआईआर एनआईआईएसटी तिरूवनंतपुरम के डॉ. ए अजयघोष, लाइफ साइंसिज में इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसिज बीएचयू, वाराणसी से डॉ. श्याम सुंदर, फिजिकल साइंसिज के क्षेत्र में इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंसिज, बैंगलोर की डॉ. रोहिणी एम गोडबोले को 2लाख रुपये की राशि व इस अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।

भारतीय वैज्ञानिकों को उनके उत्कृष्ट शोध के लिए दिया जाता है पुरस्कार

उन्होंने बताया कि राजीब गोयल यंग साइंटिस्ट अवार्ड 2018-19 के लिए अप्लाईड साईंस के क्षेत्र में योगदान के लिए इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी इंदौर के डॉ. रजनीश मिश्रा, केमिकल साइंसिज के लिए इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च, तिरूवनंतपुरम के डॉ. काना एम सुरेशन, लाइफ साइंसिज के क्षेत्र में इंटरनेशनल क्रोपस रिसर्च इंस्टिट्यूट फॉर द सेमी अरिड एंड ट्रोपिक्स के डॉ. राजीव के वार्ष्णेय तथा फिजिकल साइंसिज के क्षेत्र में इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नालाजी, खड़गपुर की डॉ. सुमन चक्रवर्ती को 1 लाख रुपये की राशि व अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह पुरस्कार 1992 से कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय द्वारा हर वर्ष भारतीय वैज्ञानिकों को उनके उत्कृष्ट शोध के लिए दिया जाता है।

और पढ़ें
Next Story