Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश खड़ा करने में 70 वर्ष लगे थे, भाजपा ने कुछ साल में सब कुछ बेच दिया : कुमारी सैलजा

हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान पिछले नौ महीने से सारे काम छोड़कर शांतिपूर्ण तरीके से सड़कों पर बैठे हुए हैं। मगर ऐसा लग रहा है कि सरकार को किसी बात की कोई चिंता नहीं है। किसानों को सरकार ने उनके हाल पर छोड़ दिया है।

देश खड़ा करने में 70 वर्ष लगे थे, भाजपा ने कुछ साल में सब कुछ बेच दिया : कुमारी सैलजा
X

पत्रकारों से बातचीत करतीं कुमारी सैलजा।

हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि करनाल में जिस तरह से किसानों पर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज हुआ, वह किसी भी सरकार के लिए बड़ी शर्मनाक बात है। एक तो मुख्यमंत्री का खुद का निर्वाचन क्षेत्र और दूसरा एक अफसर द्वारा इस तरह की भाषा का प्रयोग करना, यह किसी भी सरकार के लिए बहुत ही शर्म की बात है। यह बातें हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने उकलाना में युवा व्यापार मंडल के प्रधान विनोद मित्तल के पुरानी अनाज मंडी स्थित कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहीं।

सोमवार को कुमारी सैलजा उकलाना की नई अनाज मंडी में व्यापारी नेता रामस्वरूप धायल के यहां जलपान कार्यक्रम में भी पहुंची और हरियाणा पंचायत राज संगठन द्वारा अग्रवाल सेवा सदन उकलाना में आयोजित सर्वोदय संकल्प शिविर कैंप में मुख्यअतिथि के रूप में भी शिरकत की। उन्होंने बरवाला विधानसभा क्षेत्र के पावड़ा गांव में पंचग्रामी अंबेडकर सभा द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह और बरवाला विधानसभा में आयोजित कई कार्यक्रमों में शिरकत की।

कुमारी सैलजा ने कहा कि किसान पिछले नौ महीने से सारे काम छोड़कर शांतिपूर्ण तरीके से सड़कों पर बैठे हुए हैं। मगर ऐसा लग रहा है कि सरकार को किसी बात की कोई चिंता नहीं है। किसानों को सरकार ने उनके हाल पर छोड़ दिया है। करनाल में किसानों पर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज किया गया। बिना सरकार की शह के एक अफसर ऐसे आदेश नहीं दे सकता है। मुख्यमंत्री किसानों के आंदोलन को राजनीतिक रंग देना चाहते हैं। मुख्यमंत्री अपनी कमियों को छुपाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

कुमारी सैलजा ने कहा कि इस सरकार में जन विरोधी कानून बनाए जा रहे हैं। तीन कृषि विरोधी काले कानूनों की बात हो या फिर हरियाणा में अभी जमीन भूमि अधिग्रहण कानून में किए गए संशोधन की बात हो, यह सरकार किसानों के हकों पर कुठाराघात कर रही है। यह सरकार इस देश और प्रदेश को कुछ चुनिंदा पूजीपतियों के हाथों बेच रही है। हर चीज का निजीकरण किया जा रहा है। इस देश को खड़ा करने में 70 वर्ष लगे थे। अब यह सरकार पूंजीपतियों के हाथों देश को बेचना चाहती है। पूंजीपतियों के आने से एकाधिकार हो जाएगा। हर चीज का निजीकरण हो जाएगा तो जनता का क्या होगा। आज बड़े बड़े घरानों की आमदनी बढ़ रही है। वहीं आम जनता की आमदनी घट रही है। महंगाई बढ़ती जा रही है।


Next Story