Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

12 फरवरी को सिरसा में उप मुख्यमंत्री के आवास की घेराबंदी करेंगे भट्ठा मजदूर

फतेहाबाद में लाल झंडा भट्ठा मजदूर यूनियन हरियाणा के बैनर पर जिला के सैकड़ों भट्ठा मजदूरों ने उपायुक्त कार्यालय पर धरना देकर अपनी मांगों का समाधान करने की मांग की।

12 फरवरी को सिरसा में उप मुख्यमंत्री के आवास की घेराबंदी करेंगे भट्ठा मजदूर
X

फतेहाबाद : उपायुक्त कार्यालय के बाहर भट्ठा मजदूरों के धरने को संबोधित करते लाल झंडा भट्ठा मजदूर यूनियन के नेता।

हरिभूमि न्यूज. फतेहाबाद

लाल झंडा भट्ठा मजदूर यूनियन हरियाणा के बैनर पर जिला के सैकड़ों भट्ठा मजदूरों ने उपायुक्त कार्यालय पर धरना देकर अपनी मांगों का समाधान करने की मांग की। इस धरने की अध्यक्षता यूनियन के जिला प्रधान मदन सिंह ने की व संचालन जिला सचिव गगनदीप ने किया।

लाल झंडा भट्ठा मजदूर यूनियन हरियाणा के महासचिव विनोद कुमार ने भट्ठा मजदूरों को सम्बोधित करते हुए कहा कि भट्ठा मजदूरों के लिए भट्ठों पर सभी श्रम कानून सख्ती से लागू करने, स्वच्छ पीने का पानी, बोनस, पीएफ व ईएसआई लागू करवाने, रहने के लिए पक्के मकान, सभी जरुरी वस्तुएं सरकारी दरों पर दिये जाने, मजदूरों के बच्चों की शिक्षा का प्रबंध किए जाने की मांग को लेकर प्रशासन को मांग पत्र सौंपा गया था लेकिन अभी तक जिला प्रशासन द्वारा इन मांगों को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाया है, जिससे भट्ठा मजदूरों में प्रशासन के प्रति भारी रोष है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम वेतन भी मजदूरों के साथ मजाक ही है। क्योंकि सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम वेतन से मजदूरों का गुजारा नहीं होता और हर बार भट्ठा मजदूरों को अपनी मजदूरी बढ़ोतरी आन्दोलन के दम पर ही करवानी पड़ती है। इस बार भी महंगाई अनुसार पथेर का रेट 725 रुपये करने की मांग मजदूरों ने की है और जब तक मजदूरों की मजदूरी तय नहीं होती, यह आंदोलन जारी रहेगा।

इसी कड़ी में हिसार, सिरसा व फतेहाबाद के हजारों मजदूर 12 फरवरी को सिरसा में उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के आवास की घेराबंदी करेंगे। भट्ठा मजदूरों की मांगों को लेकर यूनियन द्वारा आज अतिरिक्त उपायुक्त को अपना ज्ञापन सौंपा गया और इन मांगों का जल्द समाधान करवाने की मांग की गई। धरने के बाद सभी भट्ठा मजदूरों ने जिला उपायुक्त कार्यालय पर चल रहे किसान मजदूरों के पक्का मोर्चा पर जाकर समर्थन किया और आंदोलन में हर सम्भव सहयोग करने की घोषणा की। आज के धरने को यूनियन के अनेक नेताओं ने सम्बोधित किया।

Next Story