Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खटकड़ टोल पर जुटेंगी खाप पंचायतें, महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर होगी महापंचायत

सर्व जातीय खेड़ा खाप के प्रधान सतबीर पहलवान बरसोला ने बताया कि इस दिन किसान आंदोलन को लेकर रणनीति भी खाप पंचायतों के प्रतिनिधियों से मिलकर बनाई जाएगी।

खटकड़ टोल पर जुटेंगी खाप पंचायतें, महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर होगी महापंचायत
X

खटकड़ टोल के पास किसानों के धरने पर पहुंची भारी तादाद में किसानों की भीड़।

हरिभूमि न्यूज : जीद (उचाना)

संयुक्त किसान मोर्चा की दिल्ली में आयोजित ट्रैक्टर परेड के बाद किसानों की गांव बद्दोवाला तथा खटकड़ टोल प्लाजा पर संख्या में फिर से इजाफा होने लगा है। किसानों को संदेह था कि कहीं प्रशासन जबरदस्ती उन्हें धरना स्थल से न उठा दे।

खटकड टोल प्लाजा धरना स्थल पर 30 जनवरी को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर जिले की खाप पंचायतों की महापंचायत बुलाने का फैसला लिया। सर्व जातीय खेड़ा खाप के प्रधान सतबीर पहलवान बरसोला ने बताया कि इस दिन किसान आंदोलन को लेकर रणनीति भी खाप पंचायतों के प्रतिनिधियों से मिलकर बनाई जाएगी। जो षड़यंत्र किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए सरकार कर रही है, जो भ्रम लोगों में फैलाया जा रहा है उस भ्रम को दूर करने काम खाप पंचायतों द्वारा करने के साथ-साथ बड़ा फैसला इस महापंचायत में खाप पंचायतें लेंगी। भाकियू (चढूनी) जिलाध्यक्ष आजाद पालवां ने कहा कि जान देकर भी किसान अपनी फसलों, नस्लों की रक्षा करेगा। सरकार की मंशा जवान, किसान को आपस में भिड़वाने की शुरू से ही रही है। किसान शांति पूर्वक तरीके से दिल्ली में 63दिनों से धरना दे रहे है।

बद्दोवाला टोल प्लाजा पर पहुंचा अमला तो बढ़ी किसानों की संख्या

गांव बद्दोवाला टोल प्लाजा पर वीरवार सुबह भारी संख्या में पुलिस बल के साथ एसडीएम पहुंचे। धरने को लेकर बातचीत का दौर भी चला, इसी बीच भनक मिलने पर काफी संख्या में किसान धरना स्थल पर पहुंच गए। किसानों का कहना था कि प्रशासन की कोशिश थी कि धरना स्थल को यहां से उठाया जाए। किसानों की तादाद ज्यादा होने के कारण ऐसा संभव नहीं हो सका। किसानों ने साफ कहा कि जब तक तीन कृषि कानून को रद्द नहीं किया जाता तब तक उनका शांतिपूर्ण ढंग से आंदोलन जारी रहेगा। जो भी फैसला संयुक्त किसान मोर्चा कमेटी लेगी उसके आधार पर आंदोलन को चलाया जाएगा।

Next Story