Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

झज्जर की टीम ने ग्रेटर नोएडा में पकड़ा भ्रूण लिंग जांच गिरोह

सीएमओ कार्यालय के नोडल ऑफिसर डॉक्टर अचल त्रिपाठी ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली कि सौरभ नामक व्यक्ति द्वारा एनपीएस हॉस्पिटल द्वारका मोड़ में महिलाओं को बहला-फुसलाकर ग्रेटर नोएडा के किसी नर्सिंग होम में उनकी भ्रूण लिंग जांच करवाई जा रही है।

झज्जर की टीम ने ग्रेटर नोएडा में पकड़ा भ्रूण लिंग जांच गिरोह
X

विद्या अल्ट्रासाउंड सेंटर का बाहरी चित्र।

हरिभूमि न्यूज. झज्जर

पीएनडीटी की टीम ने ग्रेटर नोएडा के एक नर्सिंग होम में छापामारी कर भ्रूण लिंग जांच मामले का खुलासा किया है। छापेमारी के दौरान संबंधित अल्ट्रासाउंड सेंटर से अल्ट्रासाउंड करने की दो आधुनिक मशीने, कई मोबाइल फोन व अन्य सामान को सील किया है। सीएमओ कार्यालय के नोडल ऑफिसर डॉक्टर अचल त्रिपाठी ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली कि सौरभ नामक व्यक्ति द्वारा एनपीएस हॉस्पिटल द्वारका मोड़ में जिला क्षेत्र की महिलाओं को बहला-फुसलाकर ग्रेटर नोएडा के किसी नर्सिंग होम में उनकी भ्रूण लिंग जांच करवाई जा रही है।

सिविल सर्जन द्वारा डीएम गौतम बुध नगर को ईमेल द्वारा सूचना दी गई। इसके बाद कमेटी गठित की गई। जिसमें नोडल ऑफिसर डॉक्टर अचल त्रिपाठी, डॉक्टर हर्षदीप मेडिकल ऑफिसर पीएचसी माजरा-डी, डॉक्टर रवि गोदारा, अजय कुमार डीलिंग झज्जर, संजय सिंह क्लर्क कम आईए व प्रदीप चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को शामिल किया गया। इसके बाद फर्जी ग्राहक के रूप में एक महिला को सत्तर हजार रुपए दिए गए। तयशुदा स्थान ग्रेटर नोएडा पहुंची महिला ग्राहक ने अपने पति के साथ जाकर सौरभ से मुलाकात की। उसके बाद वे एक टैक्सी में बैठ गए। फिर गाड़ी एक पेट्रोल पंप पर जाकर रुकी जहां एक व्यक्ति को कुछ रुपये दिए गए। इसी दौरान एक व्यक्ति सुपर स्पलेंडर बाइक पर गाड़ी के साथ-साथ चलता रहा जिसकी पहचान बाद में सलाउदीन के तौर पर हुई। उनकी गाड़ी रेलवे रोड स्थित विद्या अल्ट्रासाउंड सेंटर के नजदीक पहुंची और महिला ग्राहक को यहां रखे एक बैंच पर थोड़ी देर इंतजार करने के लिए कहा गया।

डॉक्टर त्रिपाठी ने बताया कि इसी बीच गौतम बुध नगर की पीएनडीटी टीम भी रेलवे रोड पहुंच गई। करीब उसके आधे घंटे बाद प्रमोद शर्मा नामक व्यक्ति किसी प्रिया नाम की महिला आईडी लेकर आया। उसने महिला ग्राहक को चिकित्सक से फर्जी आईडी वाला नाम बताने की सलाह दी। उसके चार-पांच मिनट बाद वह कमरे से बाहर आया। फिर उसने एक कमरे में ले जाकर महिला ग्राहक का अल्ट्रासाउंड करवाया। अल्ट्रासाउंड के बाद लड़का होने की बात करते हुए शीघ्र ही बाहर जाने के आदेश दिए। इसके उपरांत महिला ग्राहक ने इशारा करके घात लगाए बैठी टीम को बुला लिया। टीम द्वारा इशारा मिलने पर सेंटर पर छापामारी की गई। डॉक्टर अचल त्रिपाठी ने बताया कि विद्या अल्ट्रासाउंट सेंटर, रेलवे रोड दादरी में छापेमारी के दौरान जहां अल्ट्रासाउंड करने की दो मशीने बरामद की गई, वहीं घटना स्थल मौजूद कर्मचारियों से उनके मोबाइल भी जब्त किए गए। इसके अलावा सलाउदीन व प्रमोद शर्मा से चार-चार हजार रुपये, काउंटर से पांच हजार रुपये, अल्ट्रासाउंड कक्ष से एक हजार रुपए फर्जी ग्राहक को दिए नोटों में से बरामद किए गए। अल्ट्रासाउंड मशीन व अन्य सामान को सील कर दिया गया।

Next Story