Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आईटीआई अनुदेशक ने फांसी लगाकर दी जान, पेड़ से लटकता मिला शव

परिजनों ने मृतक को मानसिक रूप से परेशान बताया है। शहर थाना पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आईटीआई अनुदेशक ने फांसी लगाकर दी जान, पेड़ से लटकता मिला शव
X

मृतक अमित का फाइल फोटो व पोस्टमार्टम के लिए कागजी कार्रवाई करते हुए पुलिस कर्मी।

हरिभूमि न्यूज. जींद

नूहं मेवात में ड्यूटीरत आईटीआई अनुदेशक ने बड़ा बीड वन में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक गांव ढांडा खेड़ी का रहने वाला है। परिजनों ने मृतक को मानसिक रूप से परेशान बताया है। शहर थाना पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बडा बीड वन में बीती रात पेड से फांसी के फंदे पर एक युवक लटकता देखा गया। नजदीक ही उसकी बाइक खड़ी हुई थी। घटना की सूचना पाकर शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को फांसी के फंदे से उतार सामान्य अस्पताल पहुंचाया। मृतक की जेब से मिले कागजातों के आधार पर उसकी पहचान गांव ढांडा खेड़ी निवासी अमित (26) के रूप में हुई। अमित मंगलवार दोपहर बाद अपने पिता बरकत अली से मेडिकल करवाने की बात कहकर घर से निकला था। जिसके बाद वह घर वापस नहीं लौटा।

मृतक के पिता बरकत अली ने बताया कि अमित लगभग दो साल पहले नूंह आईटीआई में अनुबंध आधार पर इलेक्ट्रीशियन अनुदेशक के पद पर नियुक्त हुआ था। दस फरवरी को वह घर छुट्टी आया था। पिछले तीन चार दिन से उसकी तबीयत खराब थी। छुट्टी आगे बढ़वाने के लिए वह मेडिकल करवाने की बात कहकर घर से निकला था। अमित की शादी लगभग सात माह पहले हुई थी। अमित ने यह कदम क्यों उठाया यह भी बरकत अली की समझ से परेह है। शहर थाना पुलिस ने मृतक के शव का सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया।

शहर थाना के जांच अधिकारी वजीर ने बताया कि मृतक को परिजनों ने मानसिक रूप से परेशान बताया है। फिलहाल मृतक के शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Next Story