Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विद्यार्थी परेशान : बंद हुआ इंटरनेट तो रूकी ऑनलाइन परीक्षाएं, अब एक दिन में ऑफलाइन देनी होंगी दो परीक्षा

विद्यार्थियों को फोन कॉल करके एक दिन पहले ही सूचना दे दी गई थी कि उन्हें दोनों परीक्षाएं देने के लिए विवि में उपस्थित होना होगा। इनमें बीटैक अंतिम वर्ष के सैमेस्टरों से संबंधित परीक्षाएं शामिल हैं।

हिमाचल के सरकारी स्कूलों में फर्स्ट टर्म की ऑनलाइन परीक्षाएं आज से, 50 अंकों की परीक्षा को दो घंटे में पूरा करना होगा
X
फाइल फोटो

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

किसान आंदोलन के कारण जिले में लगातार चौथे दिन इंटरनेट सेवाएं बंद रही। इंटरनेट बंद होने का अब व्यापक असर होने लगा है। दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एंव तकनीकी विश्वविद्यालय, मुरथल में 27 व 28 जनवरी को आयोजित की गई ऑनलाइन परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं, इंटरनेट बंद होने के कारण कुछ विद्यार्थी ऑनलाइन परीक्षाएं नहीं दे पाए थे। विवि ने ये परीक्षाएं अब रविवार यानी आज ऑफलाइन लेने का निर्णय लिया है। ऐसे में विद्यार्थियों को फोन कॉल करके एक दिन पहले ही सूचना दे दी गई थी कि उन्हें दोनों परीक्षाएं देने के लिए विवि में उपस्थित होना होगा। खास बात यह है कि ये दोनों परीक्षाएं एक ही दिन में आयोजित की जाएंगी। इनमें बी.टैक अंतिम वर्ष के सैमेस्टरों से संबंधित परीक्षाएं शामिल हैं। विवि ने आज ली जाने वाली ऑफलाइन परीक्षाओं की तैयारी कर ली है और उसके लिए बाकायदा अलग स्टाफ की ड्यूटी भी लगा दी है।

सोनीपत में 26 जनवरी से बंद है इंटरनेट

किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली में 26 जनवरी को लाल किले पर बवाल के अलावा कई जगह हुई हिंसा की घटनाओं के बाद प्रदेश सरकार ने 3 जिलों में 27 जनवरी को शाम 5 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद रखने का निर्णय लिया था। इनमें सोनीपत भी शामिल था। इसके बाद इंटरनेट बंद करने के आदेशों को 28 जनवरी तक बढ़ाया गया और बाद में 30 जनवरी शाम 5 बजे तक के लिए हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी थी। इंटरनेट सेवाएं बंद होने के कारण अन्य कार्यों की तरह स्कूल, कॉलेज व यूनिवर्सिटीज में हो रही परीक्षाओं पर भी असर पड़ा।

मुरथल विवि में चल रहीं परीक्षाएं

मुरथल विवि में माहभर से बी.टैक व अन्य कई कोर्सों की परीक्षाएं चल रही थी, जिनमें 27 व 28 जनवरी होने वाली बी.टैक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं भी शामिल रही। यहां पर परीक्षाएं दोनों ही मोड में हो रही हैं। यानी विद्यार्थी ऑफलाइन के साथ ही ऑनलाइन परीक्षाएं भी दे रहे हैं। 28 जनवरी को विवि की परीक्षाएं समाप्त हो चुकी हैं, लेकिन इंटरनेट बंद होने के कारण अंतिम दो दिन की परीक्षाएं विद्यार्थी नहीं दे पाए। यही कारण है कि विवि प्रशासन ने तय किया है कि इन परीक्षाओं से वंचित रहे विद्यार्थी रविवार को विवि में पहुंचकर ऑफलाइन परीक्षाएं देंगे। ऑनलाइन परीक्षा देने वाले सभी विद्यार्थियों को अब ये दोनों परीक्षाएं एक ही दिन ऑफलाइनम मोड में देनी होंगी।

कॉपी चैक करने में दिक्कत, रिजल्ट पर होगा असर

मुरथल विवि के अलावा सोनीपत के अन्य विश्वविद्यालयों में भी हाल ही में परीक्षाएं हुई हैं, जिनकी उत्तर पुस्तिकाएं चैक करने का काम चल रहा है। कॉपी चैक करते समय मुरथल विवि से संबंधित टीचर्स को अवार्ड डाऊनलोड करने होते हैं, लेकिन इंटरनेट सेवाएं बंद होने के कारण वे ऐसा नहीं कर पा रहे। यही कारण है कि कॉपी चैक के काम में देरी होगी, जिसका सीधा असर रिजल्ट के समय पर पड़ेगा। माना जा रहा है कि इंटरनेट सेवाएं यदि कुछ दिन और बंद कर दी गई तो रिजल्ट निर्धारित समय से लेट हो जाएगा।

स्कूल-कॉलेजों की ऑनलाइन कक्षाएं ठप

जिले के जीवीएम, टीकाराम कॉलेज, हिंदू कॉलेज व अन्य कॉलेजों में हालांकि ऑफलाइन कक्षाएं शुरू हो चुकी हैं, लेकिन साथ ही वैकल्पिक व्यवस्था के लिए ऑनलाइन कक्षाएं भी लगाई जा रही हैं। 4 दिनों से इंटरनेट सेवाएं बाधित होने के कारण ऑनलाइन कक्षाओं में 10 प्रतिशत विद्यार्थी भी नहीं जुड़ पा रहे। जबकि परीक्षाएं सिर पर हैं। एमडीयू की साइट पर 20 फरवरी से परीक्षाएं शुरू होने की सूचना अपलोड की गई है। ऐसे में हर एक दिन की कक्षाएं विद्यार्थियों के लिए महत्वपूर्ण हैं, लेकिन अब ये कक्षाएं 4 दिनों से बाधित हैं। वहीं, स्कूलों में भी यही हाल है। ज्यादातर स्कूलों में 6वीं, 7वीं, 9वीं व 11वीं कक्षाओं की परीक्षाएं फरवरी माह में आयोजित होनी हैं, लेकिन परीक्षाओं की तैयारी अब बीच में ही रूक गई हैं। विद्यार्थी ऑनलाइन कक्षाएं नहीं लगा पा रहे हैं।

ऑफलाइन होगी परीक्षा

इंटरनेट सेवाएं बंद होने से मुरथल विवि की अंतिम दो दिन की परीक्षाएं ऑनलाइन आयोजित नहीं की जा सकी, जिसके कारण ये परीक्षाएं स्थगित कर रविवार यानी 31 जनवरी को विवि में ऑफलाइन आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। -डा. एमएस धनखड़, परीक्षा नियंत्रक, मुरथल विवि।



Next Story