Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खेलों को बढ़ावा दे रहीं संस्थाओं को मिलेगी वित्तीय सहायता

जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी प्रीतम सिंह ने बताया कि पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों की आय में वृद्धि करने के लिए सरकार देश में एक हजार खेल केंद्र स्थापित करने जा रही है

आईपीएल सट्टाबाजारी : डेढ़ करोड़ रुपये के साथ तीन लोग चढ़े हत्थे
X
प्रतीकात्मक फोटो

हरिभूमि न्यूज, चरखी दादरी

जमीनी स्तर पर खेलों को प्रोत्साहन देेने के लिए खेलो इंडिया कार्यक्रम के दौरान पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों तथा खेलों को बढ़ावा दे रही संस्थाओं को सरकार चार साल के लिए खेल प्रशिक्षण केंद्र खोलने पर वित्तीय सहायता देगी।

जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी प्रीतम सिंह ने बताया कि पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों की आय में वृद्धि करने के लिए सरकार देश में एक हजार खेल केंद्र स्थापित करने जा रही है। ये खेल केंद्र ओलंपिक गेम जैसे फुटबाल, आर्चरी, तैराकी, शूटिंग, हॉकी, जूडो, फैंसिंग, एथलेटिक्स, बॉक्सिंग, बैडमिंटन, साइकिलिंग, रोइंग, वेटलिफ्टिंग, कुश्ती, टेबल-टेनिस व अन्य परंपरागत खेलों के नवोदित प्लेयरों को प्रशिक्षण के लिए खोले जाएंगे।

उन्होंने बताया कि चयनित किए गए खेलो इंडिया सेंटर को भारत सरकार की ओर से आर्थिक सहायता दिलवाई जाएगी। इसमें चार साल तक यह वित्तीय मदद खेलो इंडिया सेंटर को मिलेगी तथा पांच लाख की राशि उपकरण व सेंटर के रख रखाव आदि के लिए दिए जाएंगे। खेल सेंटर खोलने का इच्छुक खिलाड़ी अपना प्रस्ताव जिला खेल अधिकारी कार्यालय में आगामी सात दिनों मेें जमा करवा सकता है।

जिला चरखी दादरी में पिछले पांच साल से खेल प्रशिक्षण केंद्र चला रही उत्कृष्ट संस्था, वर्तमान में स्थापित साई प्रशिक्षण केंद्र व एक्सटेंशन सेंटर को खेलो इंडिया सेंटर में तब्दील करवाना चाहे तो भारत सरकार की गाइडलाइन के अनुसार प्रोफार्मा भरकर आवेदन कर सकते हैं। इसकी जानकारी के लिए जिला खेल कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।

Next Story