Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दुबई में 17 भारतीयों को बचाया था फांसी से, अब हाल जानने पहुंचे एसपी ओबराय, हरियाणा में शुरू करेंगे मानवता भलाई का यह काम

एसपी सिंह ओबराय का कैथल के गांव जगदीशपुरा में पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया। मौत को नजदीक से देख चुके युवक को जिंदगी का तोहफा देने वाले शख्स को घर की दहलीज में देख तरण की आंखें छलक आई।

दुबई में 17 भारतीयों को बचाया था फांसी से, अब हाल जानने पहुंचे एसपी ओबराय, हरियाणा में शुरू करेंगे मानवता भलाई का यह काम
X

एसपी सिंह ओबराय गांव जगदीशपुरा में तरणजीत के परिजनों से मिलते हुए

सूरज सहारण. कैथल

दुबई में पाकिस्तानी युवक की हत्या मामले में फांसी की सजा से 17 भारतीयों की जान बचाने वाले एसपी सिंह ओबराय का गांव जगदीशपुरा में पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया। मौत को नजदीक से देख चुके युवक को जिंदगी का तोहफा देने वाले शख्स को घर की दहलीज में देख तरण की आंखें छलक आई। सभी ने पलक पांवड़े बिछाए उनसे लिपट गए। मां के मुख से दो टूक यही शब्द निकले कि मेरे बेटे को जीवनदान देने वाले फरिश्ते आज मेरे घर की चौखट पर देख मैं खुशी से फूले नहीं समा रही।

आठ वर्षों का अरसा बीत जाने के बाद सरबत दा भला इंटरनेशनल संस्था के संस्थापक एसपी सिंह ओबराय अचानक तरणजीत के घर पहुंचे तो परिजनों, ग्रामीणों व मोजिज व्यक्तियों ने भी उनका जोरदार स्वागत किया गया। ओबराय ने बताया कि वे सभी 17 भारतीयों के घर यह देखने के लिए जाते रहते हैं कि उनकी जिंदगी कैसे व्यतीत हो रही है। तरणजीत, उसकी मां सुखविंदर कौर, पिता बलबीर सिंह व तरण की पत्नी व बच्चों को खुश देख ओबराय बोले उन्हें काफी सुकून मिलता है। वाहेगुरु की कृपा से ही वे इन युवकों की जिंदगी बचाने में सफल रहे। उन्होंने परिवार से मिलने पर खुशी जताई। उन्होंने कहा कि आज के समय में किसी को जिंदगी बचाना ही सबसे बड़ा पुण्य है। सरबत दा भला इंटरनेशनल संस्था जिला प्रधान नवीन मल्होतरा उपप्रधान सुखविंदर सिह, सरपंच निशान कौर, हरजिंदर सिंह व बलविंदर सिंह ने गांव की ओर से ओबराय को सम्मानित भी किया।

लैबोरेट्री और कैमिस्ट शॉप खोलेंगे हरियाणा में

एसपी सिंह ने बताया कि उनकी संस्था की ओर से हरियाणा में मानवता की सेवा के लिए 12 लैबोरेट्री खोली जाएगी। इसी कड़ी में आज कैथल जिला के हाबड़ी गांव में लैबोरेट्री का उद्घाटन किया है। तीन लैबोरेट्री खुल चुकी हैं नौ और जल्द खोली जाएगी। इसके लिए जगह चिन्हित की जा रही है। इसके अलावा सस्ती दरों पर गरीब व जरुरतमंद लोगों के लिए कैमिस्ट शाप भी खोली जाएगी।

117 भारतीयों की जान बचा चुके हैं ओबराय

एसपी सिंह ओबराय अब तक 117 युवकों की जान बचा चुके हैं। ओबराय ने बताया कि अरब कंट्री के देशो से 200 से अधिक भारतीयों की डैडबाडी को अपने खर्चे पर उनके परिजनों तक पहुंचा चुके हैं। स्मरण रहे तरणजीत सिंह व 17 भारतीय युवकों को दुबई में पाकिस्तानी युवक मिश्री खान की हत्या के जुर्म में फांसी की सजा सुनाई गई थी। ओबराय ने आठ करोड रुपये ब्लड मनी देकर इन युवकों की जान बचाई थी।

और पढ़ें
Next Story