Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, काेविड वैक्सीन लगवाए बिना मिल गया सर्टिफिकेट

बिना वैक्सीन लगे सर्टिफिकेट पहुंचने से अधिवक्ता हैरान हैं। उनका वैक्सीनेशन सोमवार 12 अप्रैल के लिए शेड्यूल हो गया। छिकारा किसी कारणवश वैक्सीन लगवाने नहीं जा सके। लेकिन शाम होने से पहले ही उनके मोबाइल पर सर्टिफिकेट आ गया कि आपका वैक्सीनेशन सफलतापूर्वक हो गया है।

स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, काेविड वैक्सीन लगवाए बिना मिल गया सर्टिफिकेट
X

बहादुरगढ़ : अधिवक्ता सतीश छिकारा को जारी सर्टिफिकेट

हरिभूमि न्यूज : बहादुरगढ़

देश भर में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona vaccination) की शुरुआत के साथ ही वैक्सीन लगवाने वालों को इसका प्रमाणपत्र भी दिया जा रहा है। वहीं, झज्जर जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां एक अधिवक्ता को बिना कोविड वैक्सीन लगे ही उनके पास वैक्सीन लगने का सर्टिफिकेट पहुंच गया है। बिना वैक्सीन लगे सर्टिफिकेट पहुंचने से अधिवक्ता हैरान हैं।

बहादुरगढ़ बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान सतीश छिकारा ने कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण करवाया था। उनका वैक्सीनेशन सोमवार 12 अप्रैल के लिए शेड्यूल हो गया। छिकारा किसी कारणवश वैक्सीन लगवाने नहीं जा सके। लेकिन शाम होने से पहले ही उनके मोबाइल पर सर्टिफिकेट आ गया कि आपका वैक्सीनेशन सफलतापूर्वक हो गया है। सर्टिफिकेट में वैक्सीन लगाने वाली का नाम रेनू बाला दर्शाया गया है। बिना वैक्सीन लगवाए सर्टिफिकेट आने से अधिवक्ता सतीश छिकारा हैरान रह गए। उनका कहना है कि इस तरह की लापरवाही करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

वहीं इस मामले में सिविल सर्जन डॉ. संजय दहिया का कहना है कि इस तरह से किसी को भी बिना वैक्सीन लगे सर्टिफिकेट नहीं मिल सकता, अगर ऐसा हुआ है तो इसकी जांच करवाई जाएगी और नियमानुसार कार्रवाई भी होगी।

Next Story