Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस पुलिस वाले की खाकी पर दाग हैं : युवक को रेप केस में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपये मांगता हेडकांस्टेबल गिरफ्तार

आरोपी के दो अन्य साथी पहले ही फिरौती के रुप में वसूली गई एक लाख रुपये की नकदी और गाड़ी सहित किए जा चुके हैं गिरफ्तार।

इस पुलिस वाले की खाकी पर दाग हैं : युवक को रेप केस में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपये मांगता हेडकांस्टेबल गिरफ्तार
X

पुलिस द्वारा पूर्व में काबू किए जा चुके दोनों आरोपी।

हरिभूमि न्यूज. कैथल

सीवन पुलिस ने गांव भूना निवासी एक युवक को रेप केस में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपये मांगने के मामले में मुख्यारोपी से पूछताछ कर दूसरे आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी दिल्ली पुलिस के पश्चिम विहार थाने में बतौर हेडकांस्टेबल नियुक्त था, जिसने उच्च न्यायालय की मार्फत अग्रिम जमानत हासिल कर ली थी। आरोपी के दो अन्य साथी पहले ही गांव किठाना क्षेत्र से गिरफ्तार किए जा चुके हैं, जब वे युवक के परिजनों से फिरौती की रकम वसुलने आए थे। जिन्होंने एक लाख रुपये वसुलने उपरांत मौके से फरार होते समय थाना प्रबंधक सीवन द्वारा की गई छापामारी के दौरान पुलिस पर अपनी गाड़ी की टक्कर से जानलेवा हमला कर दिया, जिसके बाद दोनों को मौके काबू कर लिया गया था।

यह था पूरा मामला

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि थाना प्रबंधक सीवन इंस्पेक्टर राजेश की अगुवाई में सीवन पुलिस के एसआई कर्मबीर सिंह की टीम ने युवक को रेप केस में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपये मांगने के मामले में मुख्यारोपी धर्मबीर निवासी बामनौली जिला झज्जर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी दिल्ली पुलिस के पश्चिम विहार थाने में बतौर हेडकांस्टेबल नियुक्त था, जिसके द्वारा न्यायालय से अग्रिम जमानत हासिल की हुई थी, जिसे पूछताछ उपरांत नियमानुसार कार्रवाई तहत रिलिज कर दिया गया। एसपी ने बताया कि ज्ञान सिंह निवासी भूना की शिकायत अनुसार उसका 28 वर्षीय भतीजा राहुल ठेकेदारी करता है, जो 14 फरवरी को घर से गया था। परंतु वापिस घर नहीं लौटा। थाना सीवन में दर्ज मामले की जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि कोई राहुल को किसी झूठे केस में फंसाने का दबाब बनाकर 10 लाख रुपये मांग रहा है, जिसके लिए राहुल के परिजन फिरौती देने किठाना क्षेत्र में पहुंचे हुए हैं।

इंस्पेक्टर काे मारी थी टक्कर

थाना प्रबंधक सीवन इंस्पेक्टर राजेश कुमार की टीम द्वारा एस्सआर पेट्रोल पंप किठाना के पास नाकाबंदी की गई। इस दौरान राहुल के परिजनों से नकदी भरा बैग हासिल करने उपरांत आरोपी जींद साइड जा रहे थे। चालक ने पुलिस टीम को देखकर पुलिस कर्मचारियों को जान से मारने की नीयत से सीधी टक्कर मारी, इसमें थाना प्रबंधक सीवन इंस्पेक्टर राजेश कुमार को मामुली चोट आई तथा उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस ने गाड़ी सवार चालक धीरज व उसके एक अन्य साथी जय दोनों निवासी खिडवाली जिला रोहतक को काबू कर लिया, जिनके कब्जे से फिरौती के रुप में हासिल की गई एक लाख रुपये तथा वारदात में प्रयुक्त गाड़ी बरामद कर ली गई। आरोपियों से पूछताछ दौरान मुख्य साजिश कर्ता की पुख्ता पहचान सीवन पुलिस द्वारा धर्मबीर उपरोक्त के रुप में कर ली गई थी।



Next Story