Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

परिवहन विभाग में रोडवेज जीएम व सचिव आरटीए पदों पर नहीं दिखेंगे एचसीएस अधिकारी

आरटीए. और रोडवेज जीएम. के पदों पर दूसरे अफसरों की तैनाती के मामले में एचसीएस एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर नाराजगी जाहिर की थी।

परिवहन विभाग में रोडवेज जीएम व सचिव आरटीए पदों पर नहीं दिखेंगे एचसीएस अधिकारी
X

चंडीगढ़। सूबे के परिवहन विभाग मे सचिव आरटीए. व रोडवेज जीएम. के पदों पर अब एचसीएस. अफसरों की तैनाती को हमेशा के लिए समाप्त कर दिया गया है। सरकार के मुख्य सचिव ने एचसीएस. काडर के 34 पदों को तत्काल प्रभाव से वापस ले लिया है। सरकार की यह कवायद गत दिनों एचसीएस. के पदों पर एचपीएस और अन्य विभागों के अफसरों की तैनाती से जोड़ कर देखा जा रहा है।

आरटीए. और रोडवेज जीएम. के पदों पर दूसरे अफसरों की तैनाती के मामले में एचसीएस एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर नाराजगी जाहिर की थी। लेकिन उसके बाद भी मुख्य सचिव की ओर से इन पदों को वापस करने का पत्र जारी कर दिया गया है।

हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव विजय वर्धन की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि एचसीएस काडर के सचिव आरटीए के 22 और महाप्रबंधक रोडवेज के 12 पद पर तुरंत प्रभाव से वापस लिए जाते हैं।

हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव फरमान से अब एचसीएस. अफसरों की काडर पोस्ट कम हो जाएगी। जबकि अब तक सैक्रेटरी आरटीए. जिसे अब सरकार ने डीटीओ का नाम दिया है उन पर सिर्फ एच.सी.एस. अफसर की ही तैनाती होती रही है।

इसके अलावा रोडवेज जी.एम. के पद पर 12 एच.सी.एस. अफसरों का कोटा था जबकि अन्य जिलों में विभागीय अफसरों को जी.एम. लगाया जाता था। वहीं एच.सी.एस. अफसरों की काडर पोस्ट कम होने से एच.सी.एस. एसोसिएशन में आक्रोश जरूर है लेकिन कोई भी अफसर खुलकर बोलने को तैयार नहीं है।

भ्रष्टाचार दूर करने के लिए सरकार ने किया नया प्रयोग

सरकार में पिछले दिनों परिवहन विभाग से भ्रष्टाचार दूर करने के लिए सैक्रेटरी पद पर एच.सी.एस. के बजाय एचपीएस. व दूसरे विभागों के क्लास टू अफसरों को तैनात करने का फैसला किया था। वहीं रोडवेज जी.एम. पद पर भी एच.पी.एस. अफसर की तैनाती की गई है। इसके अलावा आर.टी.ए. का नाम भी डी.टी.ओ. किया गया है। हालांकि अभी कई जिलों में एच.सी.एस. अफसरों को आर.टी.ए. सचिव के पद पर लगाया गया है लेकिन इस नए फरमान के बाद उनकी वापसी तय मानी जा रही है। सरकार का मानना है कि आर.टी.ए. महकमे में लंबे समय से भ्रष्टाचार की शिकायतें आ रही थी, जहां पर अब पुलिस व दूसरे विभागों के ईमानदारों को तैनात किया गया है।



Next Story