Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा पंचायत चुनाव : एक कदम और बढ़ा, 27 नवम्बर को प्रकाशित होंगी अंतिम मतदाता सूची

पंचायत चुनाव, तैयारियां शुरू
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

अमरजीत एस गिल : रोहतक

प्रदेश में आगामी जनवरी-फरवरी में होने जा रहे पंचायती राज संस्थाओं के आम चुनाव के लिए 27 नवम्बर शुक्रवार को जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत मतदाता सूचियों को अंतिम प्रकाशन करवा देगा।निर्वाचन अधिकारी की तरफ से जैसे यह सूचना अधिकारिक रूप से राज्य निर्वाचन आयोग के पास पहुंचेगी। उसके बाद चुनाव प्रक्रिया के अगले चरण की शुरुआत करेगा।

वैसे बताया जा रहा है कि मतदाता सूचियों को अंतिम प्रकाशन होने के बाद ही राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की जाती है। यह घोषणा तभी की जाती है,जब एक साथ पूरे प्रदेश में मतदाता सूचियों को अंतिम प्रकाशन करवाने का कार्य पूरा करवाया होता है। क्योंकि प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव सुरक्षा के मद्देनजर रखते हुए दो-तीन चरण में पूरे करवाए जाते हैं।

ऑनलाइन होगी वोटर लिस्ट

पहली बार जिले की पंचायतों की वोटर लिस्ट ऑनलाइन भी होंगी। इसकी प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। पंचायत विभाग जिला सूचना विज्ञान केंद्र की मदद से यह कार्य पूरा करवाएगा। इसके बाद फोटोयुक्त मतदाता सूचि को कोई भी व्यक्ति अपने घर बैठकर देख सकेगा। पंचायत विभाग ने जिले की सभी 139 पंचायतों को निर्देश दिए हैं कि जो विकास कार्य अधूरे पड़े हैं, उनको जल्द से जल्द पूरा करवाया जाए। ताकि आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले सभी प्रकार के विकास कार्य पूरे करवाए जा सकें।

दिसम्बर में जारी हो सकता है चुनाव कार्यक्रम

पंचायत विभाग की तैयारियों के मुताबिक राज्य निर्वाचन आयोग दिसम्बर के दूसरे तीसरे सप्ताह में चुनाव प्रोग्राम जारी कर सकता है। 2016 में चुनाव तीन चरण में करवाए गए थे। पहला चरण 10 जनवरी को, दूसरा 17 और अंतिम चरण के लिए 24 जनवरी को मतदान हुआ था। कहा जा रहा है कि इस बार भी तीन चरणाें इलेक्शन की प्रक्रिया पूरी करवाई जाएगी। तीन चरणों के लिए अधिसूचना भी अलग-अलग जारी की जाएगी। क्योंकि वर्ष 2016 में यह प्रक्रिया अपनाई गई थी।

तीन नवम्बर तक स्वीकार किए दावे और आपत्ति

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किए मतदाता सूचि अपडेट कार्यक्रम के मुताबिक गत 3 नवम्बर तक जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत ने मतदाता सूचियों को लेकर वोटर के दावे और आपत्ति स्वीकार की। यह कार्यक्रम 27 अक्टूबर से प्रारम्भ हुआ था। मालूम हो कि गत एक जनवरी को आधार मानकर विधानसभा चुनाव की वोटर लिस्ट के मुताबिक जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) ने मतदाता सूचियों को प्रथम प्रकाशन 27 अक्टूबर को करवा दिया है। अब वोटर लिस्टों का अंतिम प्रकाशन 27 नवम्बर को करवाया जा रहा है। अगर किसी व्यक्ति ने 25 सितम्बर 2020 तक भी अपना नाम विधानसभा की सूची में शामिल करवाया है, तो उसका नाम स्वत: ही पंचायत मतदाता सूची में आ जाएगा। इसलिए ऐसे व्यक्ति को भी पंचायत की वोट बनवाने के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है। 25 सितम्बर के बाद विधानसभा सूची में नाम शामिल करवाने वाले किसी भी व्यक्ति का नाम पंचायत की वोटर लिस्ट में नहीं आएगा।

ऐसे होगा अंतिम प्रकाशन

अब 3 नवम्बर तक जिन कर्मचारियों की ड्यूटी आपत्ति और दावे स्वीकार करने के लिए लगाई थी, उन्होंने यह कार्य संबंधित गांव में पूरा किया। 11 नवम्बर तक इन दावे और आपत्तियों का निपटारा प्रशासनिक टीम द्वारा किया गया। दावे और आपत्ति के दौरान किसी भी व्यक्ति का नाम वोटर लिस्ट में तो है, लेकिन उसमें त्रुटि थी, इसको सही किया। इसके अतिरिक्त किसी व्यक्ति की प्रशासनिक भूलवश मतदाता सूची में दो बार वोट बन गई है तो उनको भी एक जगह रखा गया है। ताकि वोटिंग के दौरान लोग डबल वोट की शिकायत न करें। कितनी वोट कटी हैं, इसकी जानकारी 27 नवम्बर को वोटों की सूची का अंतिम प्रकाशन होने के बाद मालूम हो पाएगा।

शिकायत पर डबल वोट काटी गई

प्रशासन ने लोगों को विकल्प दिया था कि अगर किसी की व्यक्ति की डबल वोट है। वह इनमें एक से एक वोट कटवा सकता है। दूसरे व्यक्ति की दोहरी वोट कटवाने का अधिकार पंचायती राज अधिनियम प्रदत अधिकार है। अगर किसी व्यक्ति को इस पर भी आपत्ति है तो वह जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) को शिकायत करके वोट कटवा सकता था। लेकिन अब जब वोटर लिस्ट का फाइलन प्रकाशन 27 नवम्बर को हो जाएगा तो इसके बाद मतदाता सूचियों में किसी भी प्रकार का फेरबदल नहीं होगा। मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन करने से पहले जो दावे और आपत्ति त्रुटि दुरूस्त करने के लिए ही स्वीकार किए जाते हैं।

कार्य अंतिम चरण में : पंचायती राज संस्थाओं के आम चुनाव के लिए मतदाता सूचियों को अंतिम प्रकाशन 27 नवम्बर को करवाया जा रहा है। यह कार्य अब अंतिम चरण में है। अब किसी भी व्यक्ति की पंचायत चुनाव के लिए नई वोट नहीं बनेगी। मतदाताओं ने जो दावे और आपत्ति जमा करवाए थे, उनका निपटान गत 19 नवम्बर कर दिया गया है। - राजपाल सिंह चहल, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रोहतक

Next Story