Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा कला परिषद कुरुक्षेत्र में कलाकारों के लिए बनेगा भवन

मुख्यमंत्री मनोहर लाल और कला एवं सांस्कृतिक मंत्री कंवर पाल ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में 5 करोड़ 38 लाख की लागत से निर्मित संग्रहालय पहली जंग-ए-आजादी 1857 तथा वाल ऑफ हीरोज गैलरी का लोकार्पण भी किया।

हरियाणा कला परिषद कुरुक्षेत्र में कलाकारों के लिए बनेगा भवन
X

 केयू ग्रीन कैम्पस बुक का विमोचन करते सीएम मनाेहर लाल और अन्य।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ( Cm Manohar Lal ) ने कहा कि बैसाखी का पर्व सामूहिक जीवन की खुशियां, उल्लास और भाईचारे का संदेश देता है। इस बैसाखी त्यौहार को अलग-अलग प्रांतों में अलग-अलग नाम और अनोखे अंदाज में मनाया जाता है।

मुख्यमंत्री कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ( Kurukshetra University) व हरियाणा कला परिषद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित बैसाखी उत्सव में बोल रहे थे। इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल और कला एवं सांस्कृतिक मंत्री कंवर पाल ( Kanwar pal ) ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के 5 करोड़ 38 लाख की लागत से निर्मित संग्रहालय पहली जंग-ए-आजादी 1857 तथा वाल ऑफ हीरोज गैलरी का लोकार्पण भी किया। इस संग्रहालय में परमवीर चक्र हासिल करने वाले वीरों की तस्वीर पर पुष्प भी अर्पित किए। मुख्यमंत्री ने मंच पर प्रस्तुति देने और उनके सहयोगी कलाकारों को 3100-3100 रूपये, पानीपत की नन्हीं कलाकारा हिति बतरा को 31 हजार रूपये देने की घोषणा करने के साथ-साथ हरियाणा कला परिषद कुरुक्षेत्र के परिसर में कलाकारों के ठहरने के लिए एक भवन का प्रस्ताव तैयार करने की घोषणा की है।

यह छात्रावास भवन कुरुक्षेत्र में लगने वाले मेलों के दौरान भी प्रयोग किया जा सकेगा। इतना ही नहीं हरियाणा के कला एवं सांस्कृतिक मंत्री कंवर पाल ने कलाकार रामकेश को 51 हजार रूपये देने की घोषणा की है।मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को नववर्ष, बैसाखी, नवरात्र आदि पर्वो की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हरियाणा कला परिषद की तरफ से दो दिन का सांस्कृतिक उत्सव किया जाना था लेकिन कोराना महामारी के कारण इसे संध्याकालीन कार्यक्रम के रूप में सीमित करना पड़ा।

Next Story