Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sultan Bull : क्या आप जानते हैं लाखों में बिकता था 'सुल्तान' का स्पर्म, 21 करोड़ रुपये की लगी थी बोली

सुल्तान अपने मालिक राम नरेश बेनिवाल के साथ हरियाणा के कैथल के बुडाखेड़ा गांव में रहता था और उसने अपने गांव और पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया। सुल्तान जैसा भैसा कोई नहीं था और शायद कोई नहीं होगा। आईए जानते हैं, सुल्तान से जुड़ी हर बात जो आप जानना चाहते हैं।

Sultan Bull : क्या आप जानते हैं लाखों में बिकता था सुल्तान का स्पर्म, 21 करोड़ रुपये की लगी थी बोली
X

सुल्तान की फाइल फोटो

Sultan Bull Dies Due to Heart Attack : हरियाणा के सुल्तान पहलवान (Sultan Bull) का हार्ट अटैक से कुछ दिन पहले निधन हो गया है। इसके बाद उनके मालिका का पूरा परिवार काफी दुखी है और बार-बार उसी खूंटे को देखता रहता है, जहां पर सुल्तान रहता था। अब मालिक नरेश के पास देखने के लिए केवल सुल्तान की तस्वीर और उससे जुड़ी यादें ही रह गई हैॆ। दरअसल, सुल्तान अपने मालिक राम नरेश बेनिवाल के साथ हरियाणा के कैथल के बुडाखेड़ा गांव में रहता था और उसने अपने गांव और पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया। सुल्तान जैसा भैसा कोई नहीं था और शायद कोई नहीं होगा। आईए जानते हैं, सुल्तान से जुड़ी हर बात जो आप जानना चाहते हैं।

दिल का दौरा पड़ने से सुल्तान भैसे की मौत

राजा ने बचपन से ही सुल्तान को पाला है। उन्हें अपने बच्चे की तरह लाड़-प्यार किया गया था, लेकिन आज उनके जाने के बाद परिवार में कमी है। एक खाली खूंटी राजा को दुखी करती है। हर वक्त बस उनकी तस्वीर देखते रहते हैं। उसके पुरस्कार देखते रहो। पशु मेलों में तहलका मचाने वाले सुल्तान ने राजा और उसके परिवार को ऐसा नाम दिया कि आज हर कोई उसे सुल्तान की वजह से ही जानता है। सुल्तान ने हर प्रतियोगिता में झंडा फहराया है। यहां तक ​​कि सुल्तान ने हरियाणा के म्यूजिक एल्बम में भी अपनी भूमिका निभाई है। परिवार का कहना है कि सुल्तान के जाने का गम इतना है कि उसकी याद उसके दिल से नहीं जाती।

लाखों में बिकता था स्पर्म

कहा जा रहा है कि सुल्तान के शौंक किसी नवाब से कम नहीं थे, कहा जाता है कि उन्हें अलग-अलग दिन के हिसाब से व्हीस्की पिलाई जाती थी और मंगलवार उनके लिए ड्राई डे होता था। यही नहीं सुल्तान को जो भी पसंद था, उन्हें वो हर चीज खिलाई जाती थी, जो उसे पसंद थी। यही नहीं सुल्तान का स्पर्म भी लाखों में बिकता था और साल में वह करीब 30 हजार स्पर्म लाखों रुपए में बिकता था।

साल 2013 में जीता पशु सौदर्य का खिताब

सुल्तान ने साल 2013 में झज्जर, करनाल और हिसार में आयोजित राष्ट्रीय पशु सौंदर्य प्रतियोगिता में राष्ट्रीय विजेता का खिताब भी जीता था। सुल्तान को देखने के लिए लाखों की भीड़ उमड़ती थी और उसकी एक झलक पाने के लिए हर कोई बेताब रहता था।

21 करोड़ की लगाई थी बोली

सुल्तान की प्रसिद्धि का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जब राजस्थान के पुष्कर मेले में एक पशु प्रेमी ने उसे देखा तो उसने सुल्तान की 21 करोड़ रुपये की कीमत लगाई थी। तब उसकी मालिक नरेश ने यह कहा था कि सुल्तान उसका बेटा है और बेटों की कोई कीमत नहीं लगाई जाती है। नरेश व उसके भाई सुल्तान की देखभाल एक पशु की तरह नहीं बल्कि अपने बेटे की तरह करते थे।


Next Story