Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घर बैठे स्पेशलिस्ट से करवाएं इलाज, पीजीआई के डेंटल विभाग ने ई-संजीवनी सेवा शुरू की

कोरोना संक्रमण के डर से न तो पीजीआई में इलाज के लिए जा पा रहे हैं और न ही प्राइवेट अस्पताल में। स्वास्थ्य समस्या से झेल रहे लोगों के लिए यहां दो अच्छी खबरें हैं।

घर बैठे स्पेशलिस्ट से करवाएं इलाज, पीजीआई के डेंटल विभाग ने ई-संजीवनी सेवा शुरू की
X
फाइल फोटो।

हरिभूमि न्यूज:रोहतक

कोविड महामारी के बीच हर कोई अपने स्तर पर प्रयास कर रहा है। सबसे ज्यादा समस्या स्वासथ्य संबंध आ रही है। संक्रमण के डर से न तो पीजीआई में इलाज के लिए जा पा रहे हैं और न ही प्राइवेट अस्पताल में। स्वास्थ्य समस्या से झेल रहे लोगों के लिए यहां दो अच्छी खबरें हैं। पहली तो ये कि पीजीआई के डेंटल विभाग ने ऑनलाइन सुविधा शुरू की है। दूसरी मेयर प्रशासन ने भी तीन डॉक्टर्स का पैनल बनाया है जो मरीजों को फोन पर सलाह देंगे और दवाएं बताएंगे। अब घर बैठे डॉक्टर्स से परामर्श ले सकते हैं।

पीजीआईडीएस के प्रिंसिपल डॉ. संजय तिवारी की देखरेख में ई-संजीवनी सेवा शुरू की गई है। मरीज 93503-87624 पर कॉल करके दांतों के विशेषज्ञ डॉक्टर्स से बात कर सकते हैं। इसके अलावा अपने स्मार्ट फोन पर ई-संजीवनी एप डाउनलोड करके इस पर मोबाइल नंबर और अन्य जानकारी अपलोड करके पंजीकरण कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन के बाद एक टॉक नंबर मिलेगा। इसके आधार पर नंबर लगाया जाएगा। डॉक्टर्स से परामर्श के बाद दवाई की पर्ची भी एप से डाउन लोड कर लें।

मेयर मनमोहन गोयल ने बताया कि प्रशासन द्वारा आईएमए रोहतक के सहयोग से वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञों के डॉक्टरों का पैनल बनाया गया है। ये डॉक्टर प्रतिदिन सुबह 9 से 10 बजे तक और शाम 4 से 5 बजे तक टेलीफोन के माध्यम से कोरोना रोगियों को नि:शुल्क परामर्श उपलब्ध करवाएंगे। कोरोना के लक्षण होने पर हेल्प लाइन नम्बरों पर सम्पर्क करके परामर्श ले सकते हैं।

ये डॉक्टर्स देंगे परामर्श

डॉ. एसएल वर्मा

वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञ

फोन: 9416053316

डॉ. सतीश गुलाटी

वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञ

9812026168

डॉ. आरके चौधरी

वरिष्ठ शल्य चिकित्सक

9812090599

Next Story