Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Toll Tax : रिचार्ज करवा लेें फास्टैग, एनएचआई का पत्र मिलते ही टोल शुरू

एक साल बाद टोल पर हलचल शुरू हो गई है। टोल पर साफ सफाई और मरम्मत कार्य करवाए जा रहे हैं। एनएचआई का पत्र मिलते ही रोहतक में तीनों टोल जल्द शुरू कर दिए जाएंगे।

Toll Tax :  रिचार्ज करवा लेें फास्टैग, एनएचआई का पत्र मिलते ही टोल शुरू
X

नारनौल : नांगल चौधरी क्षेत्र में स्थापित किया गया टोल टैक्स। 

हरिभूमि न्यूज : रोहतक

कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहा धरना समाप्त होने के साथ ही किसान वापस लौट रहे हैं। ऐसे में एक साल बाद टोल पर हलचल शुरू हो गई है। टोल पर साफ सफाई और मरम्मत कार्य करवाए जा रहे हैं। एनएचआई का पत्र मिलते ही रोहतक में तीनों टोल जल्द शुरू कर दिए जाएंगे। इसलिए वाहन चालकों को भी अपने फास्टैग रिचार्ज करवा लेने चाहिए। एक साल से अधिक समय से बंद रहे टोल प्लाजा करोड़ों रुपये का नुकसान उठा चुके हैं, वहीं सैकड़ों युवा नौकरी से हाथ धो चुके हैं।

तीन कृषि कानून के विरोध में किसानों ने मकड़ौली टोल प्लाजा, मदीना टोल प्लाजा और सांपला टोल प्लाजा पर 26 नवंबर 2020 से धरना शुरू किया था। आंदोलन तेज हुआ तो किसानों ने टोल फ्री की घोषणा कर डाली।

अनुमान के मुताबिक, मकड़ौली टोल से रोजाना करीब दस हजार वाहन गुजरते हैं। अब तक ये वाहन बिना टोल दिए जा रहे हैं। तीनों टोल बंद होने से एनएचएआई को करीब 75 लाख रुपये रोजाना नुकसान उठाना पड़ा। एनएच-9 पर सबसे ज्यादा नुकसान सांपला टोल प्लाजा से हुआ है। यहां से रोजाना करीब 35 लाख रुपये का टोल लिया जाता था। जबकि मकड़ौली टोल प्लाजा से करीब 20 लाख रुपये का नुकसान हुआ। महम टोल से भी लाखों का नुकसान हुआ। इसके साथ ही तीनों टोल से स्टाफ कम किया गया।

जल्द होंगे नए टेंडर

सूत्रों की माने तो टोल बंद होने के चलते ज्यादा नुकसान उठाने के चलते सदभाव कंपनी ने अपना टेंडर वापस ले लिया है। नए टेंडर के लिए एनएचआई ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। जल्द ही टोल नई कम्पनी को मिलने जा रहे हैं।

15 किमी. दायरे को टोल फ्री करें

मकड़ाैली टोल प्लाजा पर किसानों ने रविवार को पंचायत की। जिसमें सरकार से मांग की गई है कि टोल प्लाजा के 15 किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी गांवों को टोल फ्री किया जाएगा। इस मांग को लेकर किसानों ने प्रशासन को पत्र भी भेजा है। इस समय 5 किलोमीटर के दायरे में आने वाले मकड़ौली कलां, मकड़ौली खुर्द समेत कुछ गांव ही टोल फ्री हैं। किसान नेता राजू मकड़ौली ने कहा कि आंदोलन स्थगित हो चुका है। लेकिन मकड़ौली टोल प्लाजा पर किसान 16 दिसम्बर काे विधिवत रूप से आंदोलन को समापन कर टेंट उखाड़ कर करेंगे। उन्होंने कहा कि टोल को मुक्त कर दिया है। अब चाहे सरकार टोल शुरू करवा सकती है।

और पढ़ें
Next Story